Akshardham Temple Jaipur In Hindi:जयपुर का अक्षरधाम मंदिर घूमने की जानकारी

Akshardham Temple Jaipur In Hindi: जयपुर के वैशाली नगर में स्थित अक्षरधाम मंदिर हिंदू धर्म के भगवान नारायण को समर्पित जयपुर के प्रसिद्ध मंदिरों में से एक है। यह मंदिर हिंदू श्रद्धालुओं के लिए एक महत्वपूर्ण आस्था केंद्र माना जाता है, जहां हर साल हजारों श्रद्धालु Swaminarayan के दर्शन के लिए आते हैं। यह मंदिर अपनी सुंदर वास्तुकला, शानदार मूर्तियों, मूर्तियों और नक्काशियों के लिए जाना जाता है।

Akshardham Temple Jaipur
Akshardham Temple Jaipur

अक्षरधाम मंदिर भारत के कुछ प्रमुख शहरों में बने प्रसिद्ध नौ मंदिरों में से एक है। इन मंदिरों का निर्माण Bochasanwasi Akshar Purushottam Swaminarayan Sanstha ने स्वामीनारायण संप्रदाय के तहत करवाया था। यह मंदिर स्वामीनारायण मंदिर या स्वामीनारायण अक्षरधाम के रूप में भी जाना जाता है, जो जयपुर में सबसे पवित्र और सबसे लोकप्रिय स्थानों में से एक है। इस लेख Akshardham Temple Jaipur In Hindi में हम अक्षरधाम मंदिर से जुड़ी जानकारी और इसकी यात्रा के बारे में बताने जा रहे हैं, तो इस लेख को पूरा पढ़ें –

अक्षरधाम मंदिर भारतीय वास्तुकला, सांस्कृतिक परंपरा और हिंदू देवताओं के दृश्यों का वास्तविक दृश्य प्रदान करता है।

अक्षरधाम मंदिर जयपुर का इतिहास – Akshardham Temple Jaipur History In Hindi

जयपुर के अक्षरधाम मंदिर का इतना बड़ा इतिहास नहीं है क्योंकि यह एक आधुनिक मंदिर है जिसे हाल ही में 19वीं और 20वीं शताब्दी के बीच बनाया गया था। लेकिन फिर भी भारतीय मंदिरों की वास्तुकला को दर्शाता है जो जयपुर शहर में सबसे ज्यादा देखा जाने वाला मंदिर है। यह मंदिर वैशाली नगर में स्थित है और हर साल लाखों भक्त यहां भगवान नारायण की मूर्ति और मंदिर की पवित्रता और शांति की संरचना के दर्शन करने आते हैं।

अक्षरधाम मंदिर की वास्तुकला – Architecture Of Akshardham Temple Jaipur In Hindi

मंदिर प्रसिद्ध हरे बगीचों और झरनों से घिरा हुआ है। इसकी एक अनूठी वास्तुकला है जो मंदिर में आने वाले अधिकांश पर्यटकों को आकर्षित करती है। मंदिर की दीवारों पर खूबसूरत मूर्तियां और कई तरह की नक्काशी का काम किया गया है जो देखने में अद्भुत लगता है। मंदिर में भगवान विष्णु की मूर्ति को सोने और चांदी के आभूषणों से सजाया गया है।

अक्षरधाम मंदिर जाने का सबसे अच्छा समय – Best Time To Visit Akshardham Temple Jaipur Rajasthan In Hindi.

राजस्थान की गर्मी से तो आप वाकिफ ही होंगे कि राजस्थान में रेगिस्तान होने के कारण कितनी गर्मी पड़ती है। आप यहां मानसून के दौरान भी आ सकते हैं, लेकिन आपको अक्षरधाम मंदिर सर्दियों के समय में आना चाहिए, ताकि आप इस मंदिर के साथ-साथ राजस्थान के अन्य पर्यटन स्थलों का भी भ्रमण कर सकें। अगर आप इस मंदिर में आ रहे हैं तो आपको शाम को 7-8 बजे आना चाहिए, क्योंकि इस मंदिर में रोशनी आदि की बहुत अच्छी व्यवस्था होने के कारण शाम के समय यह मंदिर बहुत ही सुंदर दिखाई देता है।

अक्षरधाम मंदिर के खुलने और बंद होने का समय

खुलने के समय07:30 – 10:15 बजे
राजभोग थाल के लिए बंद का समय10:15 – 11:15 बजे
खुलने का समय11:15 – 12:00 दोपहर
बंद होने का समय12:00 – 04:00 दोपहर
खुलने का समय04:00 – 06:00 दोपहर
थाल के लिए बंद का समय06:00 – 07:00 दोपहर
खुलने का समय07:00 – 08:15 दोपहर
मंगला आरती सुबह6.00 बजे
शंगार आरती सुबह7.30 बजे
राजभोग आरती11.15 बजे
संध्या आरती सुबह7.00 बजे
शायन आरती सुबह8.00 बजे

अक्षरधाम मंदिर में होने वाली प्रमुख आरतियाँ – Aarti Timing In Akshardham Temple Jaipur In Hindi

  • मंगला आरती – प्रातः 06:00 बजे
  • शांगर आरती – प्रातः 07:30 बजे,
  • राजभोग आरती – 11:15 बजे,
  • संध्या आरती – शाम 07:00 बजे
  • शयन आरती – शाम 08:00 बजे से शुरू होती है।

अक्षरधाम मंदिर कैसे पहुंचे ? – How to Reach Akshardham Temple Jaipur Rajasthan In Hindi

अक्षरधाम मंदिर का निकटतम हवाई अड्डा जयपुर का सांगानेर हवाई अड्डा है, जिसकी मंदिर से दूरी लगभग 13 किमी है। है। निकटतम रेलवे स्टेशन जयपुर है, जो मंदिर से लगभग 11 किमी दूर है। और निकटतम बस स्टैंड जयपुर शहर के मध्य में स्थित गांधी पथ के पास है। इन तीनों जगहों पर देश के प्रमुख शहरों से फ्लाइट, ट्रेन और बस की सुविधा उपलब्ध है।

BAPS Shri Swaminarayan Mandir, Akshardham Temple Jaipur Images, Akshardham Temple Jaipur In Hindi, Akshardham Temple Jaipur, Akshardham Temple Jaipur Kaha Hai, Akshardham Temple Jaipur Timing, Akshardham Temple Jaipur entry fee, Aarti Timing In Akshardham Temple Jaipur In Hindi, Best Time To Visit Akshardham Temple Jaipur Rajasthan In Hindi, Best Time To Visit अक्षरधाम Temple Jaipur, Architecture Of अक्षरधाम Temple Jaipur In Hindi,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *