मध्य प्रदेश घूमने का प्लान हैं तो इन खूबसूरत जगहों पर जाना न भूलें: Best Places To Visit In Madhya Pradesh In Hindi

Best Places To Visit In Madhya Pradesh In Hindi:- नमस्कार दोस्तों, आप सभी का एक नए ब्लॉग में स्वागत है, आज हम आपको भारत के सबसे खूबसूरत पर्यटन राज्यों (Most Beautiful Tourist States of India) में से एक मध्य प्रदेश में घूमने की जगहों के बारे में बताएंगे। जो हर साल लाखों पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता है। यहां के खूबसूरत पर्यटन स्थल यहां आने वाले लोगों को कभी निराश नहीं करते।

यहां आपको ऐतिहासिक धार्मिक और प्राकृतिक पर्यटन स्थल देखने को मिलेंगे। आज हम आपको मध्य प्रदेश के प्रमुख पर्यटन स्थलों (Madhya Pradesh Me Ghumne ki Jagah) के बारे में बताएंगे और मध्य प्रदेश राज्य के बारे में विस्तार से बताएंगे। इसलिए आप इस ब्लॉग के माध्यम से शुरू से अंत तक हमसे जुड़े रहें। तो चलिए दोस्तों बिना किसी देरी के जल्द से जल्द ब्लॉग शुरू करते हैं।

Best Places To Visit In Madhya Pradesh In Hindi
Contents show

Best Places To Visit In Madhya Pradesh In Hindi – मध्य प्रदेश में घूमने के लिए बेस्ट पर्यटक स्थान

Best Places To Visit In Madhya Pradesh In Hindi– मध्य प्रदेश भारत का एक बहुत ही प्रमुख राज्य है। देश के मध्य में स्थित होने के कारण मध्य प्रदेश को “भारत का दिल” या “हृदय प्रदेश” कहा जाता है, जो अपने कई ऐतिहासिक स्मारकों, मंदिरों, किलों, महलों के कारण यहां आने वाले पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता है।

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now
Instagram Channel (Join Now) Follow Now

मध्य प्रदेश की यात्रा किसी भी पर्यटक के लिए एक सपने के सच होने जैसा होगा क्योंकि यह कई राष्ट्रीय उद्यानों और वन्यजीव अभ्यारण्यों का घर है जो वनस्पतियों और जीवों की कई लुप्तप्राय प्रजातियों का घर है। मध्य प्रदेश उन कुछ राज्यों में से एक है जो चारों तरफ से कई राज्यों से घिरा हुआ है, इस राज्य की एक अलग बात यह है कि यह किसी भी देश के साथ अपनी सीमा साझा नहीं करता है।

आइए जानते हैं, मध्यप्रदेश के खूबसूरत जगहों के बारे में, जहां आप लंबी छुट्टियां बिता सकते हैं।

Khajuraho Tourism In Hindi – खजुराहो पर्यटन

Khajuraho Tourism In Hindi

Madhya Pradesh में स्थित विश्व प्रसिद्ध खजुराहो (World Famous Khajuraho) अपने मंदिरों के लिए विश्व भर में प्रसिद्ध है। यूनेस्को ने यहां के मंदिरों को भी वर्ल्ड हेरिटेज में शामिल किया है। खजुराहो मध्य प्रदेश के अति प्राचीन पर्यटन स्थलों में से एक है। यहां की बारीक नक्काशी और बेहतरीन मूर्तियां बेहद खूबसूरत हैं। मध्य प्रदेश में स्थित कामसूत्र की रहस्यमय भूमि भी अनादि काल से प्रसिद्ध है। जिसे देखने के लिए दूर-दूर से लोग आते हैं।

यहां आपको दो प्राचीन मंदिर, लक्ष्मण मंदिर और चित्रगुप्त मंदिर भी देखने को मिलेंगे। यहां का नजारा बेहद मनमोहक होता है। इसलिए आप जब भी मध्य प्रदेश जाएं तो खजुराहो के प्रसिद्ध मंदिर और रहस्यमयी भूमि को देखकर जरूर आएं।

खजुराहो मध्य प्रदेश के बुंदेलखंड क्षेत्र में स्थित एक बहुत ही खूबसूरत छोटा शहर है, जो मध्यकालीन भारतीय वास्तुकला और संस्कृति का अद्भुत उदाहरण है। यहां स्थित हिंदू और जैन मंदिरों की वास्तुकला प्रेम के एक विशेष रूप को दर्शाती है।

Bhopal – The City of Nawabs and Lakes – नवाबों और तालाबों का शहर भोपाल

Bhopal - The City of Nawabs and Lakes

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल को नवाबों और तालाबों का शहर भी कहा जाता है। यहां कई ऐतिहासिक महल हवेलियां हैं। इनमें मुख्य रूप से सदर मंजिल, हमीद मंजिल ताजमहेर, चिकलौद कोठी आदि शामिल हैं। इसके अलावा यहां कई तालाब भी मौजूद हैं, जो शहर की खूबसूरती में चार चांद लगाते हैं। इनमें दो Beautiful Man Made Lakes भी शामिल हैं।

भोपाल संस्कृति, विरासत और आधुनिक जीवन के सही मिश्रण वाला एक बड़ा शहर है। ये शहर अपनी राजसी मस्जिदों के लिए भी पूरी दुनिया में मशहूर हैं। यहां एशिया की सबसे बड़ी ताज-उल-मस्जिद और एशिया की सबसे छोटी ढाई कदम की मस्जिद मौजूद है। भोपाल में घूमने के लिए वन विहार राष्ट्रीय उद्यान, झील और हनुमान टेकरी जैसी जगहें हैं, जो पर्यटकों को काफी आकर्षित करती हैं।

  • Human Museum
  • Sanchi Stupa in Bhopal
  • Bhimbetka Caves
  • Bhojpur Temple Bhopal
  • Bada Talab Lake Bhopal
  • Moti Masjid of Bhopal
  • Shaukat Palace of Bhopal

Bandhavgarh National Park In Hindi – बांधवगढ़ राष्ट्रीय उद्यान

Bandhavgarh National Park In Hindi

Bandhavgarh National Park Madhya Pradesh के सबसे खास पर्यटन स्थलों में से एक है, जिसे पुराने समय में रीवा के महाराजाओं के शिकारगाह के रूप में मान्यता प्राप्त थी। यह राष्ट्रीय उद्यान पूरी दुनिया में टाइगर रिजर्व के रूप में प्रसिद्ध है। Bandhavgarh National Park Madhya Pradesh दुनिया के साथ-साथ भारत में रॉयल बंगाल टाइगर्स के घनत्व के लिए दुनिया में एक विशेष पहचान रखता है। पार्क वन्य जीवन और बहुतायत में वनस्पतियों से भरा एक सुंदर जंगल है। इस पार्क में स्तनधारियों की 22 से अधिक प्रजातियाँ और एविफ़ुना की 250 प्रजातियाँ पाई जाती हैं।

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now
Instagram Channel (Join Now) Follow Now

राष्ट्रीय उद्यान में 105 किमी² का मुख्य क्षेत्र और लगभग 400 किमी² का बफर क्षेत्र शामिल है। पूरे क्षेत्र की स्थलाकृति खड़ी चोटियों, रोलिंग वन और खुले घास के मैदानों के बीच भिन्न होती है। ‘बांधवगढ़’ नाम दो शब्दों से आया है: बांधव और गढ़ जहां पूर्व का अर्थ है भाई और बाद का अर्थ है किला। रामायण के अनुसार, महान महाकाव्य, बांधवगढ़ को लक्ष्मण को उनके बड़े भाई राम ने लंका के युद्ध के बाद उपहार में दिया था।

मौजूदा राष्ट्रीय उद्यान का नाम प्रसिद्ध बांधवगढ़ किले के नाम पर रखा गया है, जो उमरिया में विंध्य श्रेणी की एक पहाड़ी पर स्थित है। प्राचीन पुस्तकों, शिव पुराण और नारद पंच रत्न के अनुसार, टूटे हुए किले को दो बंदरों द्वारा फिर से बनाया जा रहा था, जिन्होंने लंका और मुख्य भूमि के बीच एक पुल का निर्माण किया था। बांधवगढ़ किला मानव गतिविधि और स्थापत्य तकनीक के बहुत ठोस सबूतों से खुदा हुआ है।

Best Ujjain Tourist Places In Hindi – सर्वश्रेष्ठ उज्जैन पर्यटन स्थल

Architecture of Mahakaleshwar Jyotirling

उज्जैन, भारत के सबसे पुराने शहरों में से एक, मध्य प्रदेश में स्थित है। उज्जैन, भारत के सबसे पवित्र शहरों में से एक माना जाता है, मालवा क्षेत्र में शिप्रा नदी के पूर्वी तट पर स्थित एक प्राचीन शहर है। यह पहले उज्जयिनी के नाम से जाना जाता था और शिप्रा के तट पर स्थित है। यह अवंती साम्राज्य की राजधानी थी और इसका नाम महाभारत में मिलता है। उज्जैन की सबसे खास बात यह है कि यहां स्थित महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग भगवान् शिव की बारह ज्योतिर्लिंग में से एक है।

कुंभ मेले का त्योहार यहां हर 12 साल में आयोजित किया जाता है और इसमें प्रसिद्ध महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग भी है, जो भगवान शिव के बारह ज्योतिर्लिंगों में से एक है। उज्जैन प्राचीन भारत के सबसे शानदार शहरों में से एक है क्योंकि इसे विभिन्न भारतीय विद्वानों का शैक्षिक केंद्र माना जाता है। धर्म, वास्तुकला और शैक्षिक मूल्य के मामले में उज्जैन की अपार संपत्ति इसे न केवल भारतीय यात्रियों के लिए बल्कि विदेशियों के बीच भी आकर्षण का केंद्र बनाती है।

  • Ujjain Ka Prasidh Mandir Mahakaleshwar Temple 
  • Ujjain Ka Kal Bhairav Temple
  • Ujjain Me Ram Mandir Ghat
  • Ujjain Me Bharta Hai Kumb Mela 
  • Kaliadeh Palace
  • Ujjain Ka Prasidh Darshaniya Sthal Jantar Mantar 

Famous Tourist Places of Gwalior – ग्वालियर के प्रसिद्ध पर्यटक स्थल

Famous Tourist Places of Gwalior

Gwalior मध्य प्रदेश राज्य का एक ऐतिहासिक शहर है जिसकी स्थापना राजा सूरजसेन ने की थी। ग्वालियर अपने किले, स्मारकों, महलों और मंदिरों के लिए जाना जाता है। यह शहर चारों तरफ से खूबसूरत पहाड़ियों और हरियाली से घिरा हुआ है जो इसके गौरवशाली अतीत के बारे में बताता है। Gwalior Ka Kila शहर का मनोरम दृश्य प्रस्तुत करता है। जय विलास महल और सूर्य मंदिर ग्वालियर के कुछ ऐसे पर्यटन स्थल हैं जिन्हें देखने के बाद आप कभी नहीं भूल सकते। प्रसिद्ध शास्त्रीय संगीतकार तानसेन की समाधि भी यहाँ एक महत्वपूर्ण स्थान है। हर साल नवंबर/दिसंबर के महीने में शहर में चार दिवसीय तानसेन संगीत समारोह का आयोजन किया जाता है।

ग्वालियर का किला एक विशाल पहाड़ की चोटी पर बना एक मजबूत किला है। यह लगभग 3 किलोमीटर तक फैला हुआ है। इसकी संरचना ग्वालियर की शान है। ग्वालियर पहुंचते ही आप इस किले की खूबसूरती किसी भी नुक्कड़ से देख सकते हैं। इस किले के अंदर मान मंदिर, गुजरी महल, पानी की टंकियां आदि मौजूद हैं। अगर आप कभी ग्वालियर घूमने का प्लान करें तो इस किले को देखना न भूलें। इसे भारत का जिब्राल्टर भी कहा जाता है।

Kanha National Park In Hindi – कान्हा राष्ट्रीय उद्यान

मंडला जिले में स्थित कान्हा राष्ट्रीय उद्यान राजसी बाघ के साथ-साथ विभिन्न प्रकार के जंगली जानवरों का घर है। पार्क में 300 से अधिक प्रजातियों के साथ कई प्रकार के वन्यजीव और कई पक्षी जीवन हैं। इस उद्यान की सबसे खास बात यह है कि यह मध्य प्रदेश में स्थित मध्य भारत का सबसे बड़ा राष्ट्रीय उद्यान है और इस उद्यान का नाम एशिया के सर्वश्रेष्ठ उद्यानों की सूची में शामिल है। पार्क बड़े स्तनधारियों की 22 प्रजातियों का घर है और रॉयल बंगाल टाइगर यहाँ का एक प्रमुख आकर्षण है।

Bhedaghat Tourist Place In Hindi – भेड़ाघाट पर्यटन

Bhedaghat Tourist Place In Hindi

अगर आप मध्य प्रदेश में झरनों और संगमरमर की चट्टानों का मजा लेना चाहते हैं तो जबलपुर के पास Bhedaghat एक अच्छा विकल्प है। Bhedaghat Madhya Pradesh के जबलपुर जिले में एक शहर और एक नगर पंचायत है। जबलपुर शहर से लगभग 20 किमी दूर भेड़ाघाट नर्मदा नदी के तट पर स्थित है। भेड़ाघाट अपनी संगमरमरी सुंदरता और शानदार झरनों के लिए ही जाना जाता है, साथ ही 100 फीट ऊंचे धुआँधार जलप्रपात भी पर्यटकों के बीच प्रसिद्ध है।

जब सूरज की किरणें सफेद संगमरमर की इन चट्टानों पर पड़ती हैं और पानी की परछाई पड़ती है तो यह स्थान और भी खूबसूरत लगता है। फिर काले और गहरे ज्वालामुखीय समुद्रों के साथ इन सफेद चट्टानों को देखना एक सुखद अनुभव है, इतना ही नहीं चांदनी रात में यह और भी जादुई प्रभाव पैदा करता है। नर्मदा नदी इन संगमरमर की चट्टानों के माध्यम से धीरे-धीरे बहती है और थोड़ी दूरी के बाद एक झरने में मिलती है जिसे धुआंधार कहा जाता है। प्रकृति प्रेमियों के लिए नाव की सवारी भी उपलब्ध है।

चांदनी रात में संगमरमरी चट्टान के पहाड़ों के बीच नाव की सवारी पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करती है। यदि आप मनमोहक प्राकृतिक सुंदरता और झरनों का आनंद लेना चाहते हैं तो आपको छुट्टियों में भेड़ाघाट की यात्रा अवश्य करनी चाहिए। यहां कई दुकानें हैं जहां आपको संगमरमर के हस्तशिल्प और धार्मिक चिह्न मिल जाएंगे। हर साल कार्तिक के महीने में भेड़ाघाट में एक विशाल मेले का आयोजन किया जाता है। इस मेले में आपको भारतीय मेलों का रंग और कला देखने को मिलेगी।

Sanchi Stupa – सांची स्तूप

Best Places To Visit In Madhya Pradesh In Hindi

भारत के मध्य प्रदेश राज्य की राजधानी भोपाल से 46 किमी. की दूरी पर उत्तर-पूर्व में स्थित है, जो रायसेन जिले के साँची नगर में बेतबा नदी के तट पर स्थित है। यह स्थल अपनी आकर्षक कला कृतियों के लिए विश्व प्रसिद्ध है। Sanchi Stupa को यूनेस्को द्वारा 15 अक्टूबर 1982 को विश्व विरासत स्थल में शामिल किया गया था। सांची स्तूप की स्थापना मौर्य वंश के सम्राट अशोक के आदेश से तीसरी शताब्दी ईसा पूर्व में हुई थी।

इस स्थान पर भगवान बुद्ध के अवशेष रखे हुए हैं। सांची शहर एक पहाड़ी की चोटी पर स्थित है और हरे-भरे बगीचों से घिरा हुआ है। जिससे यहां आने वाले पर्यटकों को शांति और आनंद की अनुभूति होती है और पर्यटक इस स्थान की ओर आकर्षित होते हैं। इस स्थान पर मौजूद मूर्तियों और स्मारकों में आपको बौद्ध कला और वास्तुकला की अच्छी झलक देखने को मिलती है। ये स्थान हरे भरे बागानों से घिरा हुआ है, जो यहां आने वाले पर्यटकों को एक अलग प्रकार का आनंद और शांति महसूस कराता है।

 स्तूप का नाम साँची स्तूप
 निर्माता सम्राट अशोक
 निर्माणकाल तीसरी सताब्दी ईशा पूर्व
 सम्पूर्ण निर्माण 12वी सताब्दी
 किस काल में विकास हुवा शुंग काल , सातवाहन वंश , बाद के काल , पाश्चात्य पुनर्निवेष्ण

Famous Tourist place of Orchha – ओरछा का प्रसिद्ध पर्यटन स्थल

Famous Tourist place of Orchha

मध्य प्रदेश में बेतवा नदी के किनारे बसा ओरछा एक खूबसूरत शहर है, जिसे मध्य प्रदेश की शाही नगरी भी कहा जाता है। प्राचीन काल में ओरछा को “उरछा” के नाम से भी जाना जाता था। बुंदेला युग की याद दिलाने वाला मध्यप्रदेश पर्यटन को बढ़ावा देने वाला “ओरछा” भारत का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। इतिहास के शौकीनों के घूमने के लिए ओरछा को मध्य प्रदेश की सबसे अच्छी जगहों में से एक माना जाता है। जब भी आप ओरछा जाएंगे तो आपको यहां के विभिन्न ऐतिहासिक स्थान, मंदिर, किले और अन्य पर्यटक आकर्षण देखने को मिलेंगे, जहां हर साल हजारों पर्यटक आते हैं।

मध्य प्रदेश का ओरछा एक ऐसा टूरिस्ट प्लेस है, जिसे दोस्तों के टूर, फैमिली वेकेशन और यहां तक कि न्यूली मैरिड कपल्स के लिए हॉलिडे डेस्टिनेशन में से एक माना जाता है। ओरछा के महलों और मंदिरों की मध्ययुगीन वास्तुकला भी फोटोग्राफरों के आकर्षण का केंद्र बनी हुई है।

ओरछा का किला अपने आकर्षण के लिए पूरे देश में प्रसिद्ध है, जो यहां आने वाले पर्यटकों को खूब आकर्षित करता है। इसके अलावा चतुर्भुज मंदिर, राज मंदिर और लक्ष्मी मंदिर ओरछा के मुख्य आकर्षण हैं जो यहां आने वाले लोगों के लिए यात्रा को यादगार बनाते हैं।

Pachmarhi Tourism In Hindi –  पचमढ़ी पर्यटन

Pachmarhi Tourism In Hindi

पचमढ़ी भारत के दिल मध्य प्रदेश के होशंगाबाद जिले में स्थित एक Beautiful Hill Station है। मध्य प्रदेश का एकमात्र हिल स्टेशन पचमढ़ी सतपुड़ा की खूबसूरत पहाड़ियों के बीच स्थित होने के कारण सतपुड़ा की रानी के रूप में विश्व प्रसिद्ध है। पचमढ़ी के घने जंगलों, बड़े झरनों, शुद्ध स्वच्छ पानी के तालाबों, औपनिवेशिक शैली की वास्तुकला में बने आकर्षक चर्चों को देखने के लिए दुनिया भर से लोग यहां आते हैं।

पचमढ़ी में पांडवों के निवास और गुफाओं में प्राचीन शैल चित्रों की उपस्थिति के कारण इन गुफाओं का पौराणिक और पुरातात्विक महत्व है। भगवान शिव के जटा शंकर, गुप्त महादेव, चौरागढ़ और महादेव गुफा में रहने के कारण इसे भगवान शिव का दूसरा घर भी कहा जाता है। मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र के नवविवाहितों के लिए यह सस्ता, सुंदर और सुलभ Honeymoon Destination है।

पचमढ़ी तक सिर्फ सड़क मार्ग से ही पहुंचा जा सकता है। पिपरिया से पचमढ़ी की दूरी 54 किलोमीटर है। पहले आपको पिपरिया आना होगा, फिर पिपरिया से आप बस या टैक्सी से पचमढ़ी जा सकते हैं। पिपरिया से पचमढ़ी मार्ग पर कई फेरी और मोड़ हैं, इसलिए जाने में लगभग 1.5 से 2 घंटे लगते हैं।

ओंकारेश्वर मंदिर – Omkareshwar Temple

Omkareshwar Temple

ओंकारेश्वर मध्य प्रदेश का प्रसिद्ध पर्यटन स्थल (Famous Tourist Places of Madhya Pradesh) है। ओंकारेश्वर मंदिर अति प्राचीन मंदिर है। यह मंदिर बहुत ही खूबसूरत है। इस मंदिर के गर्भगृह में 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक विराजित है। इस मंदिर के अंदर आपको खूबसूरत नक्काशी देखने को मिलती है। इस मंदिर में बने खंभों पर भी खूबसूरती से नक्काशी की गई है। यहां आपको शिवलिंग के दर्शन हो जाते हैं।

यहां कई शिवलिंग विराजमान हैं। यह ओंकारेश्वर मंदिर में नर्मदा नदी के बीच में बने एक टापू पर विराजमान है। आप इस द्वीप पर एक पुल और नाव के जरिए पहुंच सकते हैं। यहां आपको खूबसूरत मंदिर और ओंकारेश्वर शिवलिंग देखने को मिलेंगे। यहां आकर बहुत अच्छा लग रहा है। यहां नर्मदा नदी का नजारा देखने लायक होता है। दूर-दूर से लोग यहां ज्योतिर्लिंग के दर्शन के लिए आते हैं। यहां आप घूमने आ सकते हैं। यहां के वातावरण में शांति है। आप यहां अपने परिवार और दोस्तों के साथ घूमने आ सकते हैं।

Best time to visit Madhya Pradesh – मध्यप्रदेश घूमने जाने का सही समय

यूं तो आप मध्य प्रदेश की सैर के लिए कभी भी जा सकते हैं, लेकिन कुछ समय सबसे अच्छा होता है, जिस दौरान आप मध्य प्रदेश के सभी पर्यटन स्थलों को बहुत अच्छे से देख सकते हैं और अन्य खूबसूरत नजारे भी देख सकते हैं।

इसलिए नवंबर से मार्च के बीच का समय आपके लिए मध्य प्रदेश घूमने के लिए बहुत ही बेहतरीन है। इस समय से दुनिया भर से लोग मध्यप्रदेश घूमने आते हैं। इस दौरान मौसम खुशनुमा बना रहता है और इस दौरान आपको जल्दी थकान भी महसूस नहीं होगी। इस मौसम में आप मध्य प्रदेश के सभी पर्यटन स्थलों की सैर आराम से कर सकते हैं।

How To Reach Madhya Pradesh In Hindi – मध्य प्रदेश तक कैसे पहुंचे

Best Places To Visit In Madhya Pradesh In Hindi – जब कोई मध्य प्रदेश जाने की योजना बनाता है तो उसके मन में यह प्रश्न आता है कि हवाई, सड़क और रेल माध्यमों से मध्यप्रदेश आसानी से कैसे पहुँचा जा सकता है।

मध्य प्रदेश राज्य की सीमा 5 राज्यों गुजरात, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र से लगती है जिसके कारण सभी राज्य मध्य प्रदेश के शहरों और कस्बों से सड़क मार्ग से अच्छी तरह से जुड़े हुए हैं। कुछ प्रमुख राष्ट्रीय राजमार्ग जैसे NH 7, NH 12A, NH 25, NH 26, NH 27, NH 69, NH-3, NH 92, NH 12 आदि मध्य प्रदेश से होकर गुजरते हैं।

मध्य प्रदेश के कुछ प्रमुख पर्यटन स्थलों जैसे आगरा, जयपुर, वाराणसी, रणथंभौर, रायपुर, ताडोबा राष्ट्रीय उद्यान, विशाखापत्तनम, अजंता, एलोरा, उदयपुर, चित्तौड़गढ़, माउंट आबू, चंबल अभयारण्य, अहमदाबाद, लखनऊ आदि से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। है। मध्य प्रदेश के खास पर्यटन स्थलों जैसे भोपाल, इंदौर, खजुराहो, ग्वालियर, जबलपुर जाने के लिए आप टैक्सी भी किराए पर ले सकते हैं।

मध्य प्रदेश राज्य भारतीय रेलवे नेटवर्क से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। भारत के मध्य में स्थित होने के कारण देश के अधिकांश प्रमुख रेलवे ट्रैक इस राज्य से होकर गुजरते हैं। मध्य प्रदेश के सभी महत्वपूर्ण शहर और पर्यटन स्थल देश के प्रमुख शहरों जैसे आगरा, दिल्ली, मुंबई, बैंगलोर, चेन्नई, कोलकाता, रणथंभौर, उदयपुर, अहमदाबाद, पुरी, हरिद्वार, वाराणसी, जयपुर, हैदराबाद से सीधी ट्रेनों से अच्छी तरह से जुड़े हुए हैं। मध्य प्रदेश के इटारसी, बीना, कटनी, उज्जैन, इंदौर, ग्वालियर, छिंदवाड़ा, देवास, खंडवा आदि शहरों के अंदर रेल स्थित होने के कारण देश की लगभग सभी ट्रेनें मध्य प्रदेश से होकर गुजरती हैं।

मध्य प्रदेश राज्य भारत के प्रमुख पर्यटन स्थलों और शहरों जैसे दिल्ली, मुंबई, पुणे, श्रीनगर, नागपुर, विशाखापत्तनम, हैदराबाद, बैंगलोर, अहमदाबाद से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। मध्य प्रदेश राज्य के प्रमुख हवाई अड्डे भोपाल, इंदौर, ग्वालियर, जबलपुर और खजुराहो में स्थित हैं। मध्य प्रदेश में ये सभी हवाई अड्डे एयर-टैक्सी सेवा से अच्छी तरह से जुड़े हुए हैं जो राज्य के प्रमुख शहरों के भीतर तेजी से परिवहन की सुविधा प्रदान करते हैं।

Mahakaal Lok corridor

TagsBest Places To Visit In Madhya Pradesh In Hindi, Best Tourist Places Of MP, Top 10 Places To Visit In Madhya Pradesh, MP Tourist Places In Hindi, 10 Best Places To Visit In MP In Hindi, Khajuraho Tourism In Hindi, Ujjain Tourism In Hindi, Best Places To Visit In Madhya Pradesh In Hindi, Best Places To Visit In Madhya Pradesh In Hindi, Best Places To Visit In Madhya Pradesh In Hindi, Best Places To Visit In Madhya Pradesh In Hindi, Best Places To Visit In Madhya Pradesh In Hindi, Best Places To Visit In Madhya Pradesh In Hindi, Best Places To Visit In Madhya Pradesh In Hindi,


Leave a Comment

बेहद सुकून और प्रदूषण मुक्त सीक्रेट हिल स्टेशन जो है नैनीताल के करीब चिलचिलाती गर्मी के लिए बेस्ट है जयपुर का यह वाटर पार्क एडवेंचर के हैं शौकीन तो जाए खीर गंगा, जो है हिमाचल की वादियों में बसी। गर्मी से मिलेगी राहत, सिर्फ दो हजार में घूमे दिल्ली के पास इन जगहों पर मई में बजट में घूमने के लिए डलहौजी से लेकर नैनीताल तक परफेक्ट हैं ये जगहें गर्मी की छुट्टियों में घूमने का ले भरपूर मजा इन खूबसूरत हिल स्टेशन पर इस गर्मी जयपुर में एन्जॉय करने के लिए बेस्ट वाटर पार्क 2024 चिलचिलाती गर्मी में कूल वाइब्स के लिए घूम आएं इन ठंडी जगहों पर जयपुर के न्यू हवाई-जहाज वॉटर पार्क के टिकट में बड़ा बदलाव, जानिए जयपुर का यह फेमस वाटर पार्क मार्च 2024 में इस डेट को हो रहा है ओपन घूमे भारत के 10 सबसे खूबसूरत एवं रोमांटिक हनीमून डेस्टिनेशन वीकेंड पर दिल्ली के आसपास घूमने वाली 10 बेहतरीन जगहें मसूरी में है भीड़ तो घूमे चकराता, खूबसूरत नजारा आपका मन मोह लेगा। जेब में रखिए 5 हजार और घूम आएं इन दिल को छू लेने वाली जगहों पर वीकेंड में दिल्ली से 4 घंटे के अंदर घूमने की बेहद खूबसूरत जगहे गुलाबी शहर कहे जाने वाले जयपुर के प्लेसेस की खूबसूरत तस्वीरें रिवर राफ्टिंग और ट्रैकिंग के लिए फेमस है उत्तराखंड का ये छोटा कश्मीर उत्तराखंड का सीक्रेट हिल स्टेशन जहां बसती है शांति और सुंदरता हनीमून के लिए बेस्ट हैं भारत की ये सस्ती और सबसे रोमांटिक जगहें Gulmarg Snowfall: गुलमर्ग में बिछी बर्फ की सफेद चादर, देखे तस्वीरें