नाहरगढ़ किले के इतिहास और घूमने की जानकारी: Nahargarh Fort Jaipur History In Hindi

Nahargarh Fort Jaipur History In Hindi: नाहरगढ़ का किला जयपुर शहर के पास एक पहाड़ी पर स्थित राजस्थान का एक ऐतिहासिक किला है। अरावली पर्वतमाला पर बने इस किले को आज हॉन्टेड पैलेस के नाम से भी जाना जाता है। इस किले से जयपुर शहर को साफ देखा जा सकता है। राजधानी जयपुर के नाहरगढ़ और जयगढ़ को देखने हजारों की संख्या में पर्यटक आते हैं।

 किले का नाम नाहरगढ़ किला 
 स्थान जयपुर, राजस्थान (भारत)
 निर्माण सन 1734
 निर्माता महाराजा सवाई जय सिंह
 नाहरगढ़ किले की ऊंचाई 700 फीट
Nahargarh Fort Jaipur History In Hindi

नाजुक नक्काशी और शानदार पत्थर के काम के साथ नाहरगढ़ किला एक अभेद्य किला है जो आमेर किले और जयगढ़ किले के साथ जयपुर शहर के एक मजबूत रक्षक के रूप में खड़ा है। जयपुर घूमने जाने वाला कोई भी पर्यटक इस ऐतिहासिक किले को देखे बिना नहीं रह सकता अगर आप नाहरगढ़ किले को देखना चाहते हैं तो इस लेख को जरूर पढ़ें क्योंकि इसमें हम आपको नाहरगढ़ किले के इतिहास, वास्तुकला और दर्शनीय स्थलों की पूरी जानकारी देने जा रहे हैं।

Best time to visit Nahargarh Fort
Contents show

इस किले के निर्माण से जुड़ी एक पौराणिक कथा है – Nahargarh Fort Jaipur Story

Nahargarh Fort Jaipur History In Hindi: नाहरगढ़ का प्राचीन नाम सुदर्शनगढ़ था, इस किले के निर्माण के पीछे एक पौराणिक कथा है, कहा जाता है कि यह जंगली शेरों का निवास स्थान हुआ करता था। नाहरजी को पशुओं का देवता माना जाता है। इसी मान्यता के चलते नाहर सिंह भोमिया का मंदिर बनाया गया और बाद में इसी स्थान पर जयपुर का किला बनाया गया, जिसे नाहरगढ़ कहा जाता है। 1734 में, महाराजा सवाई जय सिंह द्वितीय ने जयपुर शहर की स्थापना की और उन्होंने ही जयगढ़ और नाहरगढ़ नाम के जिलों का निर्माण किया। इस दुर्ग की सुरक्षा के लिए चारों ओर मोटी प्राचीरें बनाई गई हैं। यह आमेर के राजपूत शासकों की राजधानी और निवास हुआ करता था।

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now
Instagram Channel (Join Now) Follow Now

कहा जाता है कि इस किले पर कोई आक्रमण नहीं हुआ था। जब भारत का पहला स्वतंत्रता संग्राम हुआ था, तब जयपुर के राजा के संरक्षण में ब्रिटिश अधिकारियों की महिलाओं और बच्चों को इस किले में रखा गया था। समय-समय पर जयपुर के शासकों ने इस किले की मरम्मत का काम करवाया जिसमें राम सिंह और माधो सिंह का नाम प्रमुखता से लिया जाता है स्वतंत्रता के बाद जब राजाओं के शासन को कानून द्वारा समाप्त कर दिया गया, तो नाहरगढ़ का किला दर्शनीय स्थल बन गया। यहां कई फिल्में भी बन चुकी हैं। ऐतिहासिक जगह होने के कारण इसे देखने के लिए देश भर से लोग आते हैं।

Nahargarh Fort Jaipur History In Hindi

Nahargarh Fort Jaipur History In Hindi – नाहरगढ़ किले का इतिहास 

1734 में, सवाई जयसिंह ने मराठा आक्रमणों से जयपुर की रक्षा के लिए अरावली पर्वतमाला की एक पहाड़ी पर नाहरगढ़ का निर्माण किया। नाहरसिंह भोमिया के नाम पर ही इस किले का नाम नाहरगढ़ पड़ा। ऐसा माना जाता है कि नाहरगढ़ के किले के निर्माण के दौरान जुझार नाहर सिंह ने किले के निर्माण में बाधा उत्पन्न की थी। तब तांत्रिक रत्नाकर पौंडरिक ने नाहरसिंह बाबा को अन्यत्र जाने के लिए तैयार किया और अंबागढ़ के पास एक चौबुर्जी किले में अपना ठिकाना स्थापित किया।

जहां उन्हें लोक देवता के रूप में पूजा जाता है। नाहरगढ़ शिल्प और सुंदरता से भरे अपने भव्य महलों के लिए प्रसिद्ध है। नाहरगढ़ के अधिकांश महल महाराजा सवाई राम सिंह द्वितीय और सवाई माधोसिंह प्रथम ने अपने नौ पासवानों के नाम पर बनवाए थे।

जिनके नाम सूरज प्रकाश, खुशहाल प्रकाश, जवाहर प्रकाश, ललित प्रकाश, आनंद प्रकाश, लक्ष्मी प्रकाश, चांद प्रकाश, फूल प्रकाश और बसंत प्रकाश हैं। जो शायद पादरियों के नाम पर हैं। इन महलों की वास्तुकला की प्रमुख विशेषता इनकी एकरूपता, रूपों का संयोजन तथा ऋतुओं के अनुसार इनमें वायु और प्रकाश की व्यवस्था है। किले की अन्य इमारतों में हवा मंदिर, महाराजा माधो सिंह का गेस्ट हाउस, सिलाखाना आदि शामिल हैं।

Architecture of Nahargarh Fort

Architecture of Nahargarh Fort – नाहरगढ़ किले की वास्तुकला

नाहरगढ़ किला एक सुंदर इंडो-यूरोपीय वास्तुकला है, जिसके अंदर कई खूबसूरत संरचनाओं का संग्रह है। जब आप “तद्गीत” नामक इस किले के प्रवेश द्वार से किले में प्रवेश करते हैं, तो आपको बाईं ओर जयपुर के शासकों को समर्पित एक मंदिर मिलेगा। आपको बता दें कि इस किले के परिसर में राठौड़ राजकुमार को समर्पित एक और मंदिर स्थित है। इसके साथ ही आपको एक परिसर में सवाई माधो सिंह द्वारा निर्मित “माधवेंद्र भवन” भी देखने को मिलेगा।

इस किले की संरचना एक दो मंजिला इमारत है जिसे राजा और उनकी बारह रानियों के लिए बनवाया गया था। नौ समान अपार्टमेंट में विभाजित, किले में प्रत्येक में एक लॉबी, बेडरूम, शौचालय, रसोई और स्टोर है। इन सबके अलावा, महल के अन्य आकर्षणों में दीवान-ए-आम शामिल है जहां राजा अपने लोगों से मिलते थे और उनकी समस्याओं और शिकायतों को सुनते थे।

Nahargarh Fort Interesting Facts

Nahargarh Fort Haunted Story In Hindi – नाहरगढ़ किले का रहस्य

नाहरगढ़ किला राजस्थान का एक बहुत ही आकर्षक किला है जो अपने पीले रंग के साथ गुलाबी शहर जयपुर में बहुत आकर्षक लगता है। इस किले को सवाई राजा मान सिंह ने अपनी रानियों के लिए बनवाया था, लेकिन राजा की मृत्यु के बाद नाहरगढ़ किले को प्रेतवाधित कहा जाने लगा। लोगों का मानना है कि इस किले में राजा का भूत निवास करता है। यहां के स्थानीय लोगों के अनुसार यहां बहुत तेज हवाएं चलने लगती हैं और कई बार दरवाजे के शीशे टूटकर गिर जाते हैं। यहां कभी-कभी एक ही समय में गर्मी और सर्दी का अहसास होने लगता है। किले का दौरा करने वाले कई लोगों ने कुछ अजीबोगरीब चीजें देखी हैं। कहा जाता है कि इस किले के जीर्णोद्धार करने वाली संस्था के मालिक रहस्यमय तरीके से अपने घर में मृत पाए गए थे।

नाहरगढ़ किले पर कभी किसी ने आक्रमण नहीं किया – No one ever attacked Nahargarh fort

राजस्थान के अधिकांश किलों में इतिहास के दर्दनाक युद्धों और आक्रमणों के अध्याय हैं। लोहागढ़ जैसे किले भी अजेय रहे हैं, जबकि चित्तौड़ और जैसलमेर जैसे किले किसी ने बहुत कुर्बानियों के बाद जीते थे, लेकिन जयपुर के इस किले पर किसी शासक के हमले का कोई प्रमाण नहीं मिलता है। इस आधार पर इसे अजेय भी माना जाता है। किले के निर्माण के बाद की एक घटना 1868 में दर्ज है जब इसका विस्तार किया गया था। यहां के शासक राम सिंह ने इसका पुनर्निर्माण करवाया और इसे आधुनिक रूप दिया।

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now
Instagram Channel (Join Now) Follow Now

वर्ष 1883 में भी राम सिंह के पुत्र माधो सिंह द्वारा नाहरगढ़ में कुछ नए महल बनवाए गए। उसी काल में किले में माधवेन्द्र भवन का निर्माण कराया गया, जहाँ महाराजा ग्रीष्मकाल में निवास करते थे। इसके अलावा रानियों के लिए कई कक्ष, झरोखे और चित्र बनवाए गए, जो आज भी नाहरगढ़ की सुंदरता में चार चांद लगाते हैं। यह किला बॉलीवुड के लिए फिल्मांकन के लिए हमेशा आकर्षण का केंद्र रहा है। यहां कई फिल्मों की शूटिंग हुई थी। जिसमें रंग दे बसंती, शुद्ध देसी रोमांस, जोधा अकबर समेत कई अन्य फिल्मों में किले का दृश्य फिल्माया गया है।

nahargarh fort night view

Nahargarh Biological Park – नाहरगढ़ किले का जैविक उद्यान

नाहरगढ़ किले के परिसर में एक जैविक उद्यान भी बनाया गया है, जो लगभग 7.2 वर्ग किलोमीटर के बड़े क्षेत्र में फैला हुआ है। यहां कई समृद्ध वनस्पतियों को देखा जा सकता है। इस बायोलॉजिकल पार्क को देखने के बाद आप यहां कई जानवरों को देख सकते हैं। कहा जाता है कि यहां पक्षियों की करीब 300 अलग-अलग प्रजातियां भी पाई जाती हैं, जो पक्षी प्रेमियों को आकर्षित करने के लिए काफी है।

नाहरगढ़ जूलॉजिकल पार्क में पाए जाने वाले कुछ जानवरों के बारे में बात करें तो हिरण, भेड़िया, लकड़बग्घा, बंगाल टाइगर, एशियाई शेर, हिमालयी भालू, जंगली सूअर और बहुत कुछ देखा जा सकता है।

nahargarh biological park jaipur timings

Nahargarh Fort Interesting Facts – नाहरगढ़ किले के बारे में कुछ रोचक बातें

नाहरगढ़ किला जयपुर के वास्तुशिल्प चमत्कारों में से एक है। गुलाबी नगरी जयपुर में बना यह किला निश्चित रूप से आपके लिए रमणीय और मनमोहक होगा। आप यह सब पहले से ही जानते हैं। लेकिन क्या आप नीचे दी गई इन रोचक बातों को जानते हैं?

  • नाहरगढ़ का किला शहर की सुरक्षा के लिए 700 फीट की ऊंचाई पर बना हुआ है, इस किले पर कभी कोई हमला नहीं हुआ है। लेकिन फिर भी इस किले में कुछ ऐतिहासिक घटनाएं घटी हैं, जिनमें 18वीं सदी में मराठों द्वारा जयपुर पर किया गया हमला भी शामिल है।
  • इस किले पर कभी भी मुगलों ने हमला नहीं किया था, नाहरगढ़ किले में लगी पिस्तौल का इस्तेमाल फायरिंग का संकेत देने के लिए किया जाता था।
  • 1857 के भारतीय विद्रोह के दौरान, राजा सवाई राम सिंह द्वारा कई यूरोपीय लोगों को उनकी सुरक्षा के लिए नाहरगढ़ किले में भेजा गया था।
  • रंग दे बसंती और जोधा अकबर जैसी बहोत प्रसिद्ध बॉलीवुड फिल्मों की शूटिंग नाहरगढ़ किले में ही की गई है।
  • नाहरगढ़ किले का सबसे आकर्षक हिस्सा माधवेंद्र भवन है, जिसे शाही महिलाओं के लिए बनवाया गया था। महल के कमरे भी गलियारों से जुड़े हुए हैं।
  • महल में महिलाओं के कमरे इस तरह से बनाए गए हैं कि राजा दूसरी रानियों को जाने बिना किसी भी रानी के कमरे में जा सकता है।
  • इस किले का नाम नाहर सिंह भोमिया के नाम पर रखा गया है। लेकिन आखिर कौन है ये शख्स जिसके नाम पर इस किले का नाम रखा गया? कुछ लोगों का मानना है कि वह एक राठौड़ राजकुमार थे और जिस स्थान पर राजा सवाई जय सिंह ने इस किले का निर्माण किया था। वह स्थान नाहरसिंह भोमिया का ही था। जय सिंह ने अपनी आत्मा की शांति के लिए किले के अंदर अपने नाम से एक मंदिर भी बनवाया। और तभी से उन्होंने किले का नाम भी अपने नाम कर लिया – नाहरगढ़ किला।
Nahargarh fort opening and closing time

Sculpture Park at Nahargarh Palace – नाहरगढ़ पैलेस में मूर्तिकला पार्क

नाहरगढ़ किले में भव्य और भव्य माधवेंद्र पैलेस को महाराजा सवाई माधो सिंह द्वितीय ने अपने भव्य रिट्रीट के रूप में बनवाया था। फिर दो शताब्दियों के बाद, क्यूरेटर पीटर नेगी ने इसे अति सुंदर मूर्तियों से सजाया है। बता दें कि राजस्थान सरकार और एक एनजीओ के बीच इस प्रोजेक्ट को 10 दिसंबर 2017 से जनता के लिए खोल दिया गया था, जो समकालीन कलाकारों के लिए अपने काम को प्रदर्शित करने का एक खास स्थान बन गया। इस जगह में भारतीय और अंतर्राष्ट्रीय सहित 24 शीर्ष कलाकारों द्वारा बनाई गई 53 कलाकृतियाँ हैं।

Best time to visit Nahargarh Fort – नाहरगढ़ किले की यात्रा का सबसे अच्छा समय

Entry fees of Nahargarh Palace in Hindi

अगर आप Nahargarh Fort Jaipur Rajasthan की यात्रा करने की योजना बना रहे हैं, तो हम आपको बता दें कि यहां घूमने का सबसे अच्छा समय सर्दियां हैं जो अक्टूबर से मार्च तक होती हैं और यह जयपुर शहर घूमने का सबसे अच्छा समय है।

इस मौसम में दिन बहुत ठंडे होते हैं लेकिन रातें 4 डिग्री सेल्सियस से भी कम ठंडी होती हैं। अगर आप इन महीनों में यात्रा करते हैं तो अपने साथ ऊनी कपड़े जरूर लेकर जाएं। यहाँ गर्मी अप्रैल से जून तक होती है और इस दौरान मौसम बहुत गर्म और शुष्क होता है।

इस समय जयपुर का तापमान 44°C – 45°C तक चला जाता है और गर्म हवाएँ भी चलती हैं। जुलाई से सितंबर तक मानसून का समय होता है लेकिन जयपुर में ज्यादा बारिश नहीं होती है।

Nahargarh fort opening and closing time – नाहरगढ़ पैलेस की टाइमिंग 

Nahargarh fort opening and closing time

नाहरगढ़ किले के खुलने और बंद होने के समय की बात करें तो यह किला पर्यटकों के लिए सुबह 10:00 बजे खुलता है (nahargarh fort jaipur opening time) और शाम 5:30 बजे बंद हो जाता है। यह नाहरगढ़ किला सप्ताह के सभी दिनों में खुला रहता है। आप अपनी सुविधा के अनुसार किसी भी दिन यहां आकर दर्शन कर सकते हैं।

Nahargarh Fort Jaipur Entry fee – नाहरगढ़ पैलेस का प्रवेश शुल्क

Nahargarh Fort Jaipur Entry fee

Nahargarh Fort Jaipur Entry Fee

  • INR- 50 per person for Indians
  • INR- 5 per person for Indian Students
  • INR- 200 per person for Foreign Tourists
  • INR- 25 per person for Foreign Students

The combined Ticket for other 8 tourist destination

  • INR- 300 per person for Indians
  • INR- 40 per person for Indian Students
  • INR- 1000 per person for Foreign Tourists
  • INR- 200 per person for Foreign Students
Nahargarh Fort Jaipur Entry fee

How To Reach Nahargarh Fort – नाहरगढ़ किले तक कैसे पहुंचे

नाहरगढ़ किला जयपुर से 19 किमी की दूरी पर स्थित है। जयपुर से इस किले के लिए बसें आसानी से उपलब्ध हैं। इसके अलावा आप कैब और टैक्सी की मदद से भी पहुंच सकते हैं। जयपुर शहर देश के सभी प्रमुख शहरों से रेलवे, वायुमार्ग और सड़क मार्ग से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है।

  • अगर आप नाहरगढ़ किला घूमने जयपुर जा रहे हैं तो हम आपको बता दें कि हवाई जहाज से जयपुर की यात्रा करना आपके लिए काफी सुविधाजनक रहेगा। सांगानेर हवाई अड्डा भारत के प्रमुख शहरों से नियमित रूप से संचालित होने वाली कई एयरलाइनों द्वारा अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। सांगानेर से नाहरगढ़ किले की दूरी करीब 34 किलोमीटर है, जहां पहुंचने के लिए आप किसी टैक्सी या कैब की मदद ले सकते हैं।
  • अगर आप ट्रेन से नाहरगढ़ किला जाना चाहते हैं तो बता दें कि जयपुर रेलवे स्टेशन एक्सप्रेस ट्रेनों की मदद से भारत के कई बड़े शहरों से जुड़ा हुआ है। जयपुर रेलवे स्टेशन पहुंचने के बाद आप यहां से कैब या टैक्सी की मदद से आसानी से अपने गंतव्य तक पहुंच सकते हैं।
  • राजस्थान राज्य सड़क परिवहन निगम जयपुर और राजस्थान राज्य के भीतर प्रमुख शहरों के बीच कई लक्जरी और डीलक्स बसों का संचालन करता है। नई दिल्ली, अहमदाबाद, उदयपुर, वड़ोदरा, कोटा और मुंबई जैसे शहरों से आपको जयपुर के लिए नियमित बसें मिलेंगी।
How To Reach Nahargarh Fort

भारत के राजस्थान राज्य के जयपुर शहर में स्थित नाहरगढ़ किले से जुड़ी हमारी जानकारी Nahargarh Fort Jaipur History In Hindi यहीं समाप्त होती है। आपको हमारी यह जानकारी कैसी लगी हमें कमेंट बॉक्स में बताना न भूलें। एक बात और अगर आप हमें इस ब्लॉग से संबंधित कोई अपडेट सुझाना चाहते हैं तो आप हमें नीचे कमेंट बॉक्स में बता सकते हैं, ताकि भविष्य में हमारे ब्लॉग को अपडेट करते समय हम आपके द्वारा दिए गए अपडेट या सुझाव पर अमल करेंगे। धन्यवाद

Nahargarh Fort Jaipur Photos

Nahargarh Fort Jaipur Images and photos
Nahargarh Fort Interesting Facts
Nahargarh Fort Jaipur Images and photos
Nahargarh Fort Jaipur History
Nahargarh Fort Jaipur Images and photos
Nahargarh Fort
nahargarh fort photos
Nahargarh fort HD photos
Nahargarh fort HD photos
nahargarh fort timings
nahargarh fort timings
Nahargarh Fort Jaipur Rajasthan
nahargarh fort bavari

Nahargarh Fort Bawri jaipur
Nahargarh Fort jaipur images
Nahargarh Fort jaipur images
Nahargarh Fort jaipur images
Nahargarh Fort jaipur couple images
Nahargarh Fort jaipur images
Nahargarh Fort jaipur images

Nahargarh Fort Jaipur Images and photos, How To Reach Nahargarh Fort, Nahargarh Fort History In Hindi, नाहरगढ़ किला जाने का सही समय, नाहरगढ़ किले का खुलने का समय और प्रवेश शुल्क, नाहरगढ़ पैलेस में मूर्तिकला पार्क, नाहरगढ़ किले में जैविक उद्यान, How To Reach Nahargarh Fort By Train In Hindi, How To Reach Nahargarh Fort By Road In Hindi, How To Reach Nahargarh Fort By Flight In Hindi, नाहरगढ़ किले का रहस्य, Nahargarh Fort Interesting Facts, Nahargarh Fort History, Nahargarh Fort Video, Nahargarh Fort Video 2023, How to reach Nahargarh Fort, Nahargarh Fort opening hours and entry fees, Best time to visit Nahargarh Fort, Architecture of Nahargarh Fort, Nahargarh Fort Images, Nahargarh Fort Location, Local Food At Nahargarh Fort In Hindi, Entry fees of Nahargarh Palace, Timings of Nahargarh Palace, Sculpture Park At Nahargarh Palace In Hindi, Nahargarh Biological Park In Hindi, Nahargarh Fort Architecture In Hindi, Nahargarh Fort Haunted Story In Hindi, नाहरगढ़ किले का इतिहास और घूमने की जानकारी, Nahargarh Fort Jaipur History In Hindi, nahargarh fort jaipur free images,



Leave a Comment

गर्मी की छुट्टियों में घूमने का ले भरपूर मजा इन खूबसूरत हिल स्टेशन पर इस गर्मी जयपुर में एन्जॉय करने के लिए बेस्ट वाटर पार्क 2024 चिलचिलाती गर्मी में कूल वाइब्स के लिए घूम आएं इन ठंडी जगहों पर जयपुर के न्यू हवाई-जहाज वॉटर पार्क के टिकट में बड़ा बदलाव, जानिए जयपुर का यह फेमस वाटर पार्क मार्च 2024 में इस डेट को हो रहा है ओपन घूमे भारत के 10 सबसे खूबसूरत एवं रोमांटिक हनीमून डेस्टिनेशन वीकेंड पर दिल्ली के आसपास घूमने वाली 10 बेहतरीन जगहें मसूरी में है भीड़ तो घूमे चकराता, खूबसूरत नजारा आपका मन मोह लेगा। जेब में रखिए 5 हजार और घूम आएं इन दिल को छू लेने वाली जगहों पर वीकेंड में दिल्ली से 4 घंटे के अंदर घूमने की बेहद खूबसूरत जगहे गुलाबी शहर कहे जाने वाले जयपुर के प्लेसेस की खूबसूरत तस्वीरें रिवर राफ्टिंग और ट्रैकिंग के लिए फेमस है उत्तराखंड का ये छोटा कश्मीर उत्तराखंड का सीक्रेट हिल स्टेशन जहां बसती है शांति और सुंदरता हनीमून के लिए बेस्ट हैं भारत की ये सस्ती और सबसे रोमांटिक जगहें Gulmarg Snowfall: गुलमर्ग में बिछी बर्फ की सफेद चादर, देखे तस्वीरें शिमला – मनाली में शुरू हुई भारी बर्फबारी, देखे जन्नत से भी खूबसूरत तस्वीरें माता वैष्णो देवी भवन में हुई ताजा बर्फबारी, भवन ढका बर्फ की चादर से। सिटी पैलेस जयपुर के बारे में 10 रोचक तथ्य जान चकरा जायेगा सिर Askot: उत्तराखंड का सीक्रेट हिल स्टेशन जो है खूबसूरती से भरपूर Khatu Mela 2024: खाटू श्याम मेला में जाने से पहले कुछ जरूरी जानकारी