जयपुर का पन्ना मीना कुंड का इतिहास जाने कैसे बनाया गया था: Panna Meena Ka Kund Jaipur In Hindi:

Panna Meena Ka Kund Jaipur In Hindi: जयपुर, राजस्थान का सबसे बड़ा शहर और राजधानी, भारत के शीर्ष पर्यटन स्थलों में से एक है। हर साल शहर में भारतीय और अंतर्राष्ट्रीय पर्यटकों की भारी भीड़ देखी जाती है, जो बीते युग की रॉयल्टी के अंशों को फिर से जीने के लिए आते हैं।

जयपुर में कई आश्चर्यजनक ऐतिहासिक स्थान हैं जो किसी भी व्यक्ति को मंत्रमुग्ध कर देते हैं। जटिल नक्काशी से लेकर अति सुंदर पेंटिंग के साथ, जयपुर शहर राजस्थान के सबसे सम्मानित पर्यटन स्थलों में से एक है। विचित्र बाज़ारों और रंग-बिरंगी खरीदारी के साथ जयपुर पर्यटन आपको इतिहास के विभिन्न युगों को दर्शाने वाले ढेर सारे पर्यटन स्थल प्रदान करता है। यह भारत के सबसे खूबसूरत पर्यटन स्थलों में से एक बन गया है और आज भी हर आत्मा को मंत्रमुग्ध करता है।

Panna Meena Ka Kund Jaipur In Hindi
Panna Meena Ka Kund Jaipur In Hindi

Panna Meena Ka Kund Jaipur In Hindi – About Panna Meena Ka Kund Jaipur

Panna Meena Ka Kund Jaipur In Hindi / पन्ना मीना की बावड़ी राजस्थान का एक पर्यटन स्थल है, जो आमेर, जयपुर में स्थित है। इसे पन्ना मीना कुंड के नाम से भी जाना जाता है। इस बावड़ी के एक ओर अति आकर्षक जयगढ़ किला है तो दूसरी ओर पहाड़ों का प्राकृतिक सौन्दर्य।

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now
Instagram Channel (Join Now) Follow Now

Panna Meena Ka Kund‘ की सुंदरता और वास्तुकला को देखने के लिए दूर-दूर से लोग यहां आते हैं। इस चौकोर आकार के कुंड में चारों तरफ सीढ़ियां हैं। यह कुंड न सिर्फ इतिहास प्रेमियों बल्कि आज की युवा पीढ़ी के बीच भी काफी लोकप्रिय है। आमेर किले के पास स्थित ‘पन्ना मीना का कुंड’ करीब 200 फीट गहरा है। पहले यह कुंड लोगों के लिए पानी का मुख्य स्रोत हुआ करता था। हालांकि अब यह लोगों का पसंदीदा पिकनिक स्पॉट बन गया है।

Panna Meena Ka Kund Jaipur

भारत में लगभग 2000 बावड़ियों में से, राजस्थान में उनमें से लगभग 100 हैं। यह अपनी अच्छी तरह से संरक्षित बावड़ियों के लिए प्रसिद्ध है, और उनमें से एक पन्ना मीना का कुंड है। पन्ना मीना का कुंड के अन्य नाम Panna Mian Kund, Panna Meena Baori, और Panna Meena Bawri है।

Panna Meena Ka Kund Story – यह एक पुराना जल भंडारण टैंक है

बावड़ी stepwell का भारतीय नाम है। यह एक पुराना जल भंडारण टैंक है जिस तक सीढ़ियों के माध्यम से पहुँचा जा सकता है। पन्ना मीना का कुंड भारत में एक अद्वितीय वास्तुशिल्प चमत्कार है, जिसे सालाना हजारों लोग देखने आते हैं। इसके अलावा, 200 मीटर गहरी बावड़ी विश्व स्तर पर पर्यटकों का ध्यान आकर्षित करती है।

अविश्वसनीय तथ्यों में से एक यह है कि यह साल भर पानी से भरा रहता है। यह अतीत में स्थानीय लोगों के लिए पानी की आपूर्ति थी। आमेर शहर पन्ना मीना का कुंड का घर है। आमेर का किला पर्यटकों को आमेर की ओर खींचता है। अधिकांश यात्री आमेर किले की यात्रा करते हैं, इस बात से बेखबर कि इस पुराने शहर में देखने के लिए इस बावड़ी जैसे और भी कई आकर्षण हैं।

History of Panna Meena Kund

पन्ना मीना कुंड जयपुर का एकमात्र पूरी तरह से बहाल और चालू बावड़ी है। बात उस समय की है जब पाइप से पानी नहीं होता था। युगों से, इसने अपने आसपास के गाँवों को पीने के पानी तक पहुँचने में मदद की है। बावड़ी, जिसे कभी-कभी बावरी के नाम से जाना जाता था, समुदाय और उसके आस-पास के समाज का अभिन्न अंग थी। यह पीने के पानी का एक विश्वसनीय स्रोत था, खासकर कम वर्षा की अवधि के दौरान। यह एक आठ मंजिला बावड़ी है जो सीढ़ियों के माध्यम से किसी भी स्तर पर पानी तक पहुँचने की अनुमति देती है। पन्ना मीना कुंड अपने आप में खूबसूरत है।

पन्ना मीना का कुंड मीठे पानी के संसाधन से कहीं बढ़कर था। यह महिलाओं के लिए एक सभा स्थल था, जहाँ वे गपशप कर सकती थीं और एक-दूसरे के जीवन पर पकड़ बना सकती थीं। नतीजतन, यह सिर्फ वास्तुकला का एक टुकड़ा नहीं है; यह हमारी संस्कृति और इतिहास का एक महत्वपूर्ण पहलू है। आप आसानी से कल्पना कर सकते हैं कि अगर आप इस बावड़ी को देखेंगे तो सदियों पहले जीवन कैसा रहा होगा।

पन्ना मीना कुंड का इतिहास – History of Panna Meena Kund

पन्ना मीणा के कुंड को लेकर कई कथाएं प्रचलित हैं। उनमें से एक यह है कि इस बावड़ी का निर्माण लगभग एक हजार वर्ष पूर्व मीणा वंश के लोगों ने करवाया था। पन्ना मीणा एक महान योद्धा था, उसे आमेर के राजा ने छल से मार डाला और यहाँ अपना शासन स्थापित किया। यह बावड़ी पन्ना मीणा के पतन की कहानी भी कहती है।

इसके अलावा एक और कथा प्रचलित है। इसी के तहत महाराज जयसिंह के शासन काल में इस बावड़ी का निर्माण कराया गया था। कहा जाता है कि महाराज जयसिंह के दरबार में पन्ना मीणा नाम का एक अत्यंत ईमानदार सेवक हुआ करता था। उनकी सेवा से प्रसन्न होकर महाराज ने इस कुंड का निर्माण करवाया।

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now
Instagram Channel (Join Now) Follow Now

8 मंजिल बावड़ी में 1800 सीढ़ियां है।

पन्ना मीना कुंड की गहराई 200 फीट है। 8 मंजिला इस बावड़ी में करीब 1800 सीढ़ियां हैं। इस कुंड में कालीन की कारीगरी का सुन्दर नमूना देखा जा सकता है। इस जगह की खूबसूरती पर्यटकों का मन मोह लेती है।

पन्ना मीना का कुंड जयपुर की वास्तुकला – Architecture of Panna Meena Kund Jaipur

jaipur tourist places

पन्ना मीना का कुंड की स्थापत्य शैली अनूठी है। हालाँकि, इस स्थान के बारे में सबसे शानदार बात यह है कि नीचे उतरने के लिए इस्तेमाल किए गए कदम आपको ऊपर नहीं ले जा सकते। यदि आप इस क्षेत्र में नए हैं तो इन विधियों के औचित्य को समझना कठिन होगा। दूसरी ओर, स्थानीय लोग इस स्थान के अनुकूल हो गए हैं और इन चरणों का उपयोग करना जानते हैं। आपको इसकी जांच करनी चाहिए!

सीढ़ियाँ एक आड़े-तिरछे पैटर्न में हैं, जो हर किसी को आकर्षित करती हैं, और यही मुख्य कारण है कि हर साल इतने सारे लोग इस खूबसूरत जगह पर आते हैं।

पन्ना मीना का कुंड जल प्रबंधन और वर्षा जल संचयन तकनीक का एक उत्कृष्ट उदाहरण है। इसने हाल ही में यहां विभिन्न बॉलीवुड फिल्मों के फिल्मांकन के परिणामस्वरूप लोकप्रियता हासिल की है।

इस पन्ना मीना का कुंड की सबसे सुखद बात यह है कि इस सीढ़ी की छत से प्रसिद्ध आमेर किले का सुंदर दृश्य दिखाई देता है। लेकिन दुर्भाग्य से बावड़ी अब उपयोग में नहीं है। दूसरी ओर, स्थानीय लड़के इसका उपयोग खेल के मैदान के रूप में, और गोताखोरी और तैराकी प्रतियोगिताओं के आयोजन के लिए करते हैं।

भले ही यह एक विशिष्ट पर्यटक यात्रा कार्यक्रम पर नहीं है, कुछ गाइड और टूर ऑपरेटर इस बावड़ी के पर्यटन प्रदान करते हैं।

दिल्ली से जयपुर की दूरी करीब 294 किलोमीटर है। जयपुर की यात्रा आप बस, ट्रेन या फ्लाइट से कर सकते हैं। बस से दिल्ली से जयपुर पहुंचने में महज 4 घंटे 53 मिनट का समय लगता है। वहीं अगर आप ट्रेन से सफर करना चाहते हैं तो इसमें सिर्फ 5 घंटे 15 मिनट का समय लगेगा। आप दिल्ली से जयपुर फ्लाइट से सिर्फ डेढ़ घंटे में पहुंच सकते हैं।

Panna Meena Ka Kund Photos

Architecture of Panna Meena Kund Jaipur
Panna Meena Ka Kund Jaipur Photos

Leave a Comment

बेहद सुकून और प्रदूषण मुक्त सीक्रेट हिल स्टेशन जो है नैनीताल के करीब चिलचिलाती गर्मी के लिए बेस्ट है जयपुर का यह वाटर पार्क एडवेंचर के हैं शौकीन तो जाए खीर गंगा, जो है हिमाचल की वादियों में बसी। गर्मी से मिलेगी राहत, सिर्फ दो हजार में घूमे दिल्ली के पास इन जगहों पर मई में बजट में घूमने के लिए डलहौजी से लेकर नैनीताल तक परफेक्ट हैं ये जगहें गर्मी की छुट्टियों में घूमने का ले भरपूर मजा इन खूबसूरत हिल स्टेशन पर इस गर्मी जयपुर में एन्जॉय करने के लिए बेस्ट वाटर पार्क 2024 चिलचिलाती गर्मी में कूल वाइब्स के लिए घूम आएं इन ठंडी जगहों पर जयपुर के न्यू हवाई-जहाज वॉटर पार्क के टिकट में बड़ा बदलाव, जानिए जयपुर का यह फेमस वाटर पार्क मार्च 2024 में इस डेट को हो रहा है ओपन घूमे भारत के 10 सबसे खूबसूरत एवं रोमांटिक हनीमून डेस्टिनेशन वीकेंड पर दिल्ली के आसपास घूमने वाली 10 बेहतरीन जगहें मसूरी में है भीड़ तो घूमे चकराता, खूबसूरत नजारा आपका मन मोह लेगा। जेब में रखिए 5 हजार और घूम आएं इन दिल को छू लेने वाली जगहों पर वीकेंड में दिल्ली से 4 घंटे के अंदर घूमने की बेहद खूबसूरत जगहे गुलाबी शहर कहे जाने वाले जयपुर के प्लेसेस की खूबसूरत तस्वीरें रिवर राफ्टिंग और ट्रैकिंग के लिए फेमस है उत्तराखंड का ये छोटा कश्मीर उत्तराखंड का सीक्रेट हिल स्टेशन जहां बसती है शांति और सुंदरता हनीमून के लिए बेस्ट हैं भारत की ये सस्ती और सबसे रोमांटिक जगहें Gulmarg Snowfall: गुलमर्ग में बिछी बर्फ की सफेद चादर, देखे तस्वीरें