उत्तरकाशी उत्तराखंड में घूमने की सबसे अच्छी जगहों की जानकारी: Uttarkashi Uttarakhand Best Tourist Places In Hindi

Uttarkashi Uttarakhand Best Tourist Places In Hindi:- उत्तरकाशी उत्तराखंड राज्य, भारत का एक जिला है, जो उत्तराखंड क्षेत्र में स्थित है। यह जिला उत्तराखंड के गंगोत्री धाम क्षेत्र में पाया जाता है और प्राकृतिक सौंदर्य के लिए प्रसिद्ध है। इस जिले का मुख्यालय उत्तरकाशी नगर है, जो यमुना नदी के किनारे स्थित है। उत्तरकाशी जिला के इलाके में गंगोत्री धाम, यमुनोत्री धाम, गौरीकुंड, बद्रीनाथ, केदारनाथ, जोशीमठ, हरशिला, आदि प्रमुख तीर्थ स्थल हैं, जो हिन्दू धर्म के महत्वपूर्ण पर्यटन स्थल हैं। यहाँ पर्वतीय दृश्य, शिविरायों के लिए आदर्श पर्वतीय स्थल, और आकर्षणीय जलवायु होती है।

उत्तरकाशी एक आकर्षक पर्वतीय जगह है और पर्यटन के लिए बहुत ही लोकप्रिय है, विशेषकर चार धाम यात्रा के रूप में। यहाँ के प्राकृतिक सौंदर्य, प्राचीन मंदिर, और धार्मिक महत्व के कारण यहाँ के धार्मिक यात्री और पर्यटक आते हैं।

UTTARKASHI UTTARAKHAND BEST TOURIST PLACES IN HINDI
Contents show

Uttarkashi Uttarakhand Best Tourist Places In Hindi – उत्तरकाशी उत्तराखंड सर्वश्रेष्ठ पर्यटक स्थल

“उत्तरकाशी” पहाड़ी राज्य उत्तराखंड में स्थित एक छोटा सा शहर है जिसे उत्तर का “वाराणसी” भी कहा जाता है। हिंदुओं द्वारा एक धार्मिक स्थल के रूप में प्रतिष्ठित, “उत्तरकाशी” भारत के सबसे पवित्र तीर्थ स्थलों (India’s most sacred pilgrimage sites) में से एक है। एक धार्मिक स्थान होने के अलावा, उत्तरकाशी एक खूबसूरत हिल स्टेशन भी है जो बर्फ से लदी पहाड़ियों, सुरम्य घाटियों, ग्लेशियरों और हरे-भरे जंगलों से समृद्ध है। यह क्षेत्र शुरू में धार्मिक पर्यटन का पक्षधर था, लेकिन पिछले कुछ वर्षों में यह प्राकृतिक सुंदरता, झीलों और ट्रैकिंग जैसी साहसिक गतिविधियों के कारण भी पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र बन गया है।

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now
Instagram Channel (Join Now) Follow Now

यदि आप अपने परिवार या दोस्तों के साथ घूमने के लिए उत्तराखंड में सबसे अच्छी जगहों की तलाश कर रहे हैं, तो आपको उत्तर में काशी की यात्रा अवश्य करनी चाहिए, क्योंकि उत्तरकाशी एक ऐसी जगह है जहां आप धार्मिक स्थानों की यात्रा के साथ-साथ कई साहसिक खेल गतिविधियाँ भी कर सकते हैं। आनंद ले सकते हैं।

यहाँ की पवित्र नदी गंगा का पानी इतना शुद्ध और निर्मल है कि आप इसे सीधे पी सकते हैं! इस स्थान को हिंदू धर्म में चार धामों में से एक माना जाता है और इसे देवी यमुना का घर माना जाता है। यमुनोत्री की यात्रा एक रोमांचकारी अनुभव है क्योंकि आप कई झरनों और हरे-भरे जंगलों से गुजरते हैं। यमुनोत्री में गर्म पानी के झरने आपके मन और शरीर को आराम देने और तरोताजा करने का आदर्श तरीका हैं।

यदि आप रोमांच के शौकीन हैं, तो उत्तरकाशी में भी आपके लिए कुछ न कुछ है! यह स्थान ट्रैकिंग, कैंपिंग और पर्वतारोहण का केंद्र है। डोडीताल एक खूबसूरत ट्रेक है जो आपको घने जंगलों और खूबसूरत घास के मैदानों से होकर ले जाता है।

विश्वनाथ मंदिर उत्तरकाशी – Vishwanath temple Uttarkashi in Hindi

विश्वनाथ मंदिर उत्तरकाशी – Vishwanath temple Uttarkashi in Hindi

भागीरथी नदी के तट पर स्थित विश्वनाथ मंदिर उत्तरकाशी के सबसे पौराणिक और पवित्र मंदिरों में से एक है जो प्रसिद्ध हिंदू देवता भगवान शिव को समर्पित है। यह उत्तरकाशी के प्रमुख धार्मिक स्थलों में से एक है जिसकी स्थापना परशुराम ने की थी। यह राज्य में आस्था का एक बड़ा केंद्र है और सभी शिव भक्त चारधाम यात्रा के दौरान यहां आते हैं और आगे की यात्रा करते हैं।

भागीरथी नदी के तट पर स्थित विश्वनाथ मंदिर उत्तरकाशी के प्रमुख दर्शनीय स्थलों में से एक सुंदर और अच्छी जगह है। बर्फ से ढके पहाड़ों से घिरे इस मंदिर में 60 सेमी लंबा एक भव्य शिवलिंग है जो हर साल कई भक्तों को आकर्षित करता है। विश्वनाथ मंदिर में भगवान शिव का एक भव्य त्रिशूल है जिसकी ऊंचाई लगभग 26 फीट 9 इंच है। तो अगर आप भी शिव भक्त हैं और शिव के चरणों के दर्शन करना चाहते हैं तो उत्तरकाशी का यह मंदिर आपके लिए सबसे अच्छी जगहों में से एक हो सकता है।

कुटेटी देवी मंदिर उत्तरकाशी – Kuteti Devi Temple, Uttarkashi in Hindi

कुटेटी देवी मंदिर उत्तरकाशी – Kuteti Devi Temple, Uttarkashi in Hindi

यह एक हिंदू मंदिर है जो देवी दुर्गा के एक रूप “देवी कुटेटी देवी” को समर्पित है, जो भागीरथी के तट पर हरि पर्वत पहाड़ी पर स्थित है। माना जाता है कि कुटेटी देवी मंदिर का निर्माण कोटा के महाराजा के दामाद और बेटी ने कराया था, जिन्हें स्वयं देवी का आशीर्वाद प्राप्त था। कुटेटी देवी मंदिर उत्तरकाशी के प्रमुख धार्मिक स्थलों और मंदिरों में से एक है, जहां हर साल हजारों श्रद्धालु और पर्यटक आते हैं।

यह मंदिर चारों ओर से हरे-भरे आवरण और झरनों से घिरा हुआ है। यही कारण है कि इस मंदिर को उत्तरकाशी में घूमने के लिए सबसे अच्छे स्थानों में से एक माना जाता है। जहां पर्यटक देवी कुटेटी देवी के दर्शन के साथ-साथ मंदिर के आसपास के सुरम्य दृश्यों का भी आनंद ले सकते हैं, जो पर्यटकों और तीर्थयात्रियों दोनों के लिए आकर्षण का केंद्र बना हुआ है।

यमुनोत्री उत्तरकाशी – Yamunotri Uttarkashi in Hindi

Yamunotri Dham- Yamunotri Temple & Yatra Information

उत्तरकाशी में घूमने की जगहें (Best Places to Visit uttarkashi in Hindi) और तीर्थ स्थलों में से एक “यमुनोत्री” यमुना नदी का उद्गम स्थल है। यमुनोत्री छोटे चार धामों में से एक है जो अब भक्तों के लिए एक विशेष पर्यटन स्थल बन गया है। 3293 मीटर की ऊंचाई पर स्थित योमुनोत्री धाम गढ़वाल हिमालय की गोद में स्थित है, जहां से आसपास की पहाड़ियों का अद्भुत नजारा भी दिखता है।

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now
Instagram Channel (Join Now) Follow Now

हिंदू पौराणिक कथाओं के अनुसार, यमुना को यम की बहन के रूप में मृत्यु की देवता के रूप में पूजा जाता है। ऐसा माना जाता है कि जीवन के अंतिम क्षणों में यमुना में स्नान करने से मृत्यु कष्ट रहित हो जाती है। इसीलिए अगर आप तीर्थस्थल उत्तरकाशी की यात्रा पर जा रहे हैं तो यात्रा के दौरान यमुना नदी में डुबकी जरूर लगाएं।

गंगोत्री उत्तरकाशी – Gangotri Uttarkashi in Hindi

Gangotri Tourist Place in Hindi

उत्तरकाशी में स्थित “गंगोत्री” एक लोकप्रिय तीर्थ स्थल है जहाँ पर्यटकों और श्रद्धालुओं की लंबी कतार लगी रहती है। यह ग्रेटर हिमालय रेंज पर समुद्र तल से 3,100 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। भागीरथी नदी के तट पर स्थित गंगोत्री, गंगा नदी का उद्गम स्थल है। गंगोत्री की यात्रा के दौरान माँ गंगा मंदिर, गंगोत्री मंदिर और सूर्य कुंड सबसे लोकप्रिय स्थानों में से कुछ हैं।

पौराणिक कहानियों से पता चलता है कि सदियों पहले, राजा भागीरथ की तपस्या के बाद, देवी गंगा उनके पूर्वजों के पापों को धोने के लिए एक नदी के रूप में प्रकट हुईं। लेकिन ऊंचाई से गिरने वाले पानी की गति को कम करने के लिए भगवान शिव ने उस पानी को अपनी जटाओं में समाहित कर लिया। गंगा नदी के उद्गम स्थान को भागीरथी भी कहा जाता है।

डोडीताल झील, उत्तरकाशी – Dodital Lake, Uttarkashi in Hindi

डोडीताल झील, उत्तरकाशी – Dodital Lake, Uttarkashi in Hindi

3024 मीटर की ऊंचाई पर स्थित डोडीताल झील उत्तरकाशी के प्रसिद्ध पर्यटन स्थलों (Dodi Tal Lake, famous tourist places of Uttarkashi) में से एक है। डोडीताल उत्तरकाशी में एक शानदार ताजे पानी की झील है जिसका स्थानीय अर्थ गणेश का तालाब है। डोडीताल झील शानदार अल्पाइन वनस्पति और बर्फ से ढके पहाड़ों से घिरी हुई है, जो इसे पिकनिक और ट्रैकिंग जैसी गतिविधियों के लिए उत्तरकाशी में सबसे अच्छे स्थानों में से एक बनाती है। क्योंकि ट्रैकर्स इस झील को यमुना घाटी में दारवा टॉप और हनुमानचट्टी तक ट्रैकिंग के लिए बेस कैंप के रूप में चुनते हैं।

कोई भी पर्यटक जो उत्तरकाशी में घूमने के लिए सर्वोत्तम स्थानों की खोज कर रहा है, वह अपनी यात्रा में डोडीताल झील को चुन सकता है। यह झील धार्मिक क्षेत्र में भी बहुत महत्वपूर्ण स्थान रखती है क्योंकि स्थानीय लोगों का मानना है कि भगवान गणेश ने इस स्थान को अपने निवास स्थान के रूप में चुना था, यही कारण है कि जब भी आप यहां आएंगे तो आपको झील के किनारे स्थापित एक गणेश मंदिर भी दिखाई देगा।

नचिकेता झील उत्तरकाशी – Nachiketa Lake, Uttarkashi in Hindi

नचिकेता झील उत्तरकाशी – Nachiketa Lake, Uttarkashi in Hindi

समुद्र तल से 2453 मीटर की ऊंचाई पर स्थित नचिकेता झील उत्तरकाशी के प्रमुख पर्यटन स्थलों में से एक है। जिसकी गहराई 7 फीट, चौड़ाई करीब 30 मीटर और लंबाई 200 मीटर है। चारों तरफ देवदार के पेड़ों के जंगलों से घिरा नचिकेता ताल बाहर से आने वाले पर्यटकों को एक सुंदर दृश्य प्रदान करता है। यह उत्तरकाशी से 29 किलोमीटर की दूरी पर स्थित एक प्राकृतिक झील है जो प्राकृतिक जल एकत्रित होने से बनी है। इस झील के चारों ओर खूबसूरत हरियाली और घने पेड़ पर्यटकों को खूब आकर्षित करते हैं।

हर साल कई पर्यटक इस जगह पर घूमने आते हैं। नाग पंचमी के दौरान इस झील में स्नान करने का विशेष महत्व है। इस झील के आसपास देखने लायक जगहों की बात करें तो झील के पास एक गुफा है और झील के चारों ओर हरे-भरे घास के मैदान भी हैं जो बेहद आकर्षक लगते हैं।

दयारा बुग्याल उत्तरकाशी – Dayara Bugyal Uttarkashi in Hindi

दयारा बुग्याल उत्तरकाशी – Dayara Bugyal Uttarkashi in Hindi

हरी-भरी अल्पाइन वनस्पतियों और घास के मैदानों से सुशोभित दयारा बुग्याल उत्तरकाशी का एक शांतिपूर्ण और आकर्षक बुग्याल है। जिसके चारों ओर हरे-भरे घास के मैदान हैं। 3048 मीटर की ऊंचाई पर स्थित दयारा बुग्याल ट्रैकिंग के लिए सबसे रोमांचक ट्रेक में से एक है। सर्दियों के दौरान इस जगह पर भारी बर्फबारी होती है, जिसके कारण यह उत्तराखंड के लोकप्रिय स्की स्थलों में गिना जाता है और बड़ी संख्या में पर्यटक यहां स्कीइंग के लिए आते हैं। दयारा बुग्याल विशेषकर सर्दियों में पर्यटकों को आकर्षित करता है।

हरे-भरे अल्पाइन घास के मैदानों से लेकर बर्फ से ढकी जगहों तक, यह जगह साहसी और रोमांटिक लोगों के लिए बहुत आकर्षक है। जिसमें प्रकृति का आनंद लेने के साथ-साथ स्कीइंग और ट्रैकिंग का आनंद भी लिया जा सकता है।

हर की दून उत्तरकाशी – Har Ki Doon Uttarkashi in Hindi

हर की दून उत्तरकाशी – Har Ki Doon Uttarkashi in Hindi

यदि आप उत्तरकाशी में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगहें (Best Places to Visit Uttarkashi) खोज रहे हैं, तो आपको हर की दून अवश्य जाना चाहिए। हर की दून वास्तव में एक खूबसूरत घाटी है जो स्वर्गारोहिणी, बंदरपून, रुइंसारा और काली चोटी जैसी बर्फ से ढकी हिमालय की चोटियों का अद्भुत दृश्य प्रस्तुत करती है।

गोविंद राष्ट्रीय उद्यान के माध्यम से ट्रैकिंग करके इस चोटी तक पहुंचा जा सकता है, इसीलिए यह स्थान प्रकृति प्रेमियों और ट्रैकर्स के लिए स्वर्ग के समान माना जाता है। इस स्थान को ‘देवताओं की घाटी’ के नाम से भी जाना जाता है क्योंकि स्थानीय लोगों का मानना है कि पांडवों ने स्वर्ग तक पहुंचने के लिए इसी मार्ग का सहारा लिया था। इसीलिए यह घाटी भी उत्तरकाशी के तीर्थ स्थलों में बहुत महत्वपूर्ण स्थान रखती है।

गोमुख उत्तरकाशी – Gaumukh Uttarkashi in Hindi

गोमुख ग्लेशियर “गंगा नदी या भागीरथी नदी” का मुख्य स्रोत है। यह स्थान हिंदू पौराणिक कथाओं में बहुत महत्व रखता है और बहुत से भक्तों और पर्यटकों को आकर्षित करता है जो बर्फीले ठंडे पानी में डुबकी लगाने के लिए यहां आते हैं। गोमुख गंगोत्री से 18 किमी की दूरी पर स्थित है और ट्रैकिंग द्वारा पहुंचा जा सकता है।

नेलांग वैली और जनक ताल ट्रेक – Nelong Valley and Janak Tal Trek Uttarkashi

Nelong Valley and Janak Taal Trek Uttarkashi

नेलांग घाटी और जनक ताल ट्रेक गंगोत्री रोड पर भैरों घाटी से शुरू होता है। नेलांग घाटी को मिनी लद्दाख के नाम से जाना जाता है। भैरों घाटी चेक पोस्ट से गंगोत्री की दूरी मात्र 9 किलोमीटर है। नेलांग वैली और जनक ताल ट्रेक दोनों ही संवेदनशील सीमा क्षेत्र में आते हैं, जिसके कारण यह क्षेत्र पर्यटकों के लिए प्रतिबंधित रहता है। जनक ताल ट्रेक को साल 2022 में पर्यटकों के लिए खोल दिया गया है। इन जगहों पर जाने के लिए जिला प्रशासन से अनुमति लेना अनिवार्य है। पर्यटक परमिट के लिए आधिकारिक वेबसाइट पर ऑनलाइन पंजीकरण कर सकते हैं।

हर्षिल वैली और गरतांग गली ट्रेक – Harshil Valley Uttarakhand and Gartang Gali Trek Uttarkashi

Harsil Valley Uttarakhand and Gartang Gali Trek Uttarkashi

हर्षिल घाटी उत्तराखंड के सबसे प्रमुख हिल स्टेशनों में से एक है। समुद्र तल से लगभग 9000 फीट की ऊंचाई पर स्थित हर्षिल गंगोत्री मार्ग पर पड़ता है। हर्षिल भागीरथी नदी के तट पर स्थित है। हर्षिल के सेब, राजमा, आलू और बगीचे काफी प्रसिद्ध हैं। देहरादून से हर्षिल तक सड़क की दूरी लगभग 230 किलोमीटर है। हर्षिल से कुछ दूरी पर आगे भैरों वैली चेक पोस्ट है जहां से गरतांग गली ब्रिज तक का सफर शुरू होता है। गारतांग गली ब्रिज एक लकड़ी का फुटब्रिज है जो एक खड़ी पहाड़ी पर बना है।

वर्षों पहले यह मार्ग भारत और तिब्बत के बीच व्यापार मार्ग था। वर्ष 2021 में लगभग 60 वर्षों के बाद इस सड़क का नव निर्माण किया गया और आज यह उत्तराखंड का एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल है। भैरों घाटी से लगभग 3 किलोमीटर का सफर तय करके गरतांग गली ब्रिज तक पहुंचा जाता है।

केदारकांठा ट्रेक उत्तरकाशी – Kedarkantha Trek Uttarkashi

Kedarkantha Trek Uttarkashi

केदारकांठा ट्रेक उत्तराखंड का सबसे प्रसिद्ध शीतकालीन ट्रेक है। केदारकांठा ट्रेक उत्तरकाशी के गोविंद राष्ट्रीय उद्यान क्षेत्र में लगभग 12500 फीट की ऊंचाई पर पड़ता है। केदारकांठा का इतिहास काफी रोचक है। एक समय की बात है जब भगवान शिव यहां ध्यान करने आए थे लेकिन इस क्षेत्र में मनुष्यों की उपस्थिति थी और एक गाय की घंटी से भगवान शिव का ध्यान भंग हो रहा था।

जिसके बाद भगवान शिव तप करने के लिए केदारनाथ क्षेत्र में पहुंचे। ऐसा माना जाता है कि यदि उस समय महादेव गाय की घंटियों की आवाज से विचलित न हुए होते तो शायद आज केदारकांठा ही केदारनाथ होता। केदारकांठा ट्रेक सांकरी गांव से शुरू होता है। देहरादून से सांकरी तक सड़क की दूरी लगभग 190 किलोमीटर है। सांकरी के बाद लगभग 18 किलोमीटर का सफर तय करके केदारकांठा चोटी पहुंचती है।

उत्तरकाशी में करने के लिए एक्टिविटी – Activities to do in Uttarkashi in Hindi

उत्तरकाशी में कई प्राकृतिक सौंदर्य और पर्वतीय स्थल होते हैं, जो विभिन्न प्रकार की एक्टिविटीज के लिए आदर्श होते हैं। यहां कुछ आपके लिए उत्तरकाशी में करने के लिए पॉपुलर एक्टिविटीज की एक सूची है:

  1. ट्रेकिंग – Trekking Uttarkashi: उत्तरकाशी जिला पर्वतीय क्षेत्रों के लिए प्रसिद्ध है और यहाँ आप विभिन्न त्रेकिंग रूट्स पर जा सकते हैं, जैसे कि गौरीकुंड, यमुनोत्री, गंगोत्री, और बद्रीनाथ।
  2. यात्रा धाम: उत्तरकाशी में चार धाम यात्रा का स्थल है, जिसमें गंगोत्री, यमुनोत्री, केदारनाथ, और बद्रीनाथ शामिल हैं। यहाँ आप धार्मिक यात्रा कर सकते हैं और प्राचीन मंदिरों का दर्शन कर सकते हैं।
  3. राफ्टिंग: यमुना और गंगा नदी के किनारे राफ्टिंग के लिए अच्छे स्थल हैं। यह एक उत्कृष्ट एक्सट्रीम स्पोर्ट है और प्राकृतिक आवास के साथ आदर्श अनुभव प्रदान करता है।
  4. पर्वतारोहण: उत्तरकाशी में पर्वतारोहण का अच्छा सामग्री है। यहाँ पर्वतारोहण करके आप प्राकृतिक सौंदर्य का आनंद ले सकते हैं और चुनौतीपूर्ण अवेंचर का सामना कर सकते हैं।
  5. वन्यजीवन सफारी: उत्तरकाशी क्षेत्र में अनेक प्रजातियों के वन्यजीवन का संरक्षण किया जाता है, और यहाँ वन्यजीवन सफारी का आनंद लिया जा सकता है।
  6. पर्वतीय बाइकिंग: यदि आप बाइक राइडिंग का शौक रखते हैं, तो उत्तरकाशी के पर्वतीय क्षेत्र में पर्वतीय बाइकिंग का आनंद ले सकते हैं।

ये केवल कुछ उदाहरण हैं, उत्तरकाशी में और भी बहुत सारी एक्टिविटीज उपलब्ध हैं। आप अपनी प्राथमिकताओं और रुचियों के आधार पर इनमें से कुछ को चुन सकते हैं और इस खूबसूरत पर्वतीय क्षेत्र का आनंद ले सकते हैं।

उत्तरकाशी घूमने जाने का सबसे अच्छा समय – Best time to visit Uttarkashi in Hindi

UTTARKASHI UTTARAKHAND BEST TOURIST PLACES IN HINDI

दरअसल, उत्तरकाशी की यात्रा पूरे साल भर की जा सकती है। लेकिन अगर हम उत्तरकाशी जाने के लिए सबसे अच्छे समय की बात करें तो यह मार्च से नवंबर के बीच है। उत्तरकाशी शहर का आनंद लेने के लिए मूलतः गर्मी, मानसून और शरद ऋतु सबसे अच्छे मौसम हैं। इस दौरान उत्तरकाशी का मौसम न सिर्फ सुहावना होता है बल्कि त्योहारों की भी लहर होती है, जो आपकी यात्रा में चार चांद लगा देती है। गर्मियों के दौरान उत्तरकाशी का तापमान 25 से 30 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहता है जो उत्तरकाशी के सर्वश्रेष्ठ पर्यटन स्थलों की यात्रा के लिए बिल्कुल उपयुक्त है।

उत्तरकाशी कैसे पहुंचे – How to Reach Uttarkashi in Hindi

उत्तरकाशी जिला पहुंचने के लिए आपको कुछ विभिन्न तरीकों का उपयोग कर सकते हैं, जैसे:

  1. वायुयान: उत्तरकाशी जिले के पास देहरादून और पंतनगर जैसे छोटे एयरपोर्ट हैं, जो नैनीताल और देहरादून से संचालित होते हैं। आप इन एयरपोर्ट से उत्तरकाशी तक हवाई यातायात का उपयोग कर सकते हैं।
  2. रेलवे: उत्तरकाशी के पास रेलवे स्थानक नहीं है, लेकिन आप रेलवे से देहरादून या हरिद्वार तक पहुंच सकते हैं और फिर सड़क या हेलीकॉप्टर के जरिये उत्तरकाशी जिले तक जा सकते हैं।
  3. सड़क: अगर आप अपने खुद के वाहन से यात्रा करना पसंद करते हैं, तो उत्तरकाशी जिले तक राजमार्ग के जरिये पहुंच सकते हैं। दिल्ली और देहरादून से उत्तरकाशी की सड़क यातायात सुविधा है।
  4. हेलीकॉप्टर: उत्तरकाशी जिले में हेलीकॉप्टर सेवाएं भी उपलब्ध हैं, जिनका उपयोग आपकी यात्रा को आसानी से बना सकता है।

आप अपनी यात्रा की योजना बनाते समय अपनी प्राथमिकताओं और सुविधाओं के आधार पर इन विकल्पों में से किसी को चुन सकते हैं। उत्तरकाशी के प्रमुख पर्वतीय तीर्थ स्थलों तक पहुंचने के बाद, आप स्थानीय पर्यटन विभाग से जानकारी प्राप्त करके वहाँ के पर्यटन गाइड और स्थानीय यात्रा के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

Uttarkashi Uttarakhand Town Stock Photos and High-res Pictures

Tags

Uttarkashi Uttarakhand Best Tourist Places In Hindi, Uttarkashi tourist places in hindi, Famous Religious Places in Uttarkashi in Hindi, Famous Tourist Places in Uttarkashi in Hindi, History of Uttarkashi in Hindi, Best Places to visit in Uttarkashi Uttarakhand, Top 10 Best Pahadi Places to visit in Uttarkashi, Uttarkashi Best Places To Visit, Uttarkashi Best Tourist places, Uttarkashi Town Stock Photos and High-res Pictures,

Image of Uttarkashi Temple Photo Gallery, Uttarkashi Temple Photo Gallery, Image of Uttarkashi market photos, Uttarkashi market photos, Uttarkashi uttarakhand images wallpaper, Uttarkashi uttarakhand images hd download, Uttarkashi uttarakhand images download, Uttarkashi uttarakhand images hd wallpaper, uttarkashi hd pics,

Uttarkashi Uttarakhand Best Tourist Places In Hindi, Uttarkashi tourist places in hindi, Famous Religious Places in Uttarkashi in Hindi, Famous Tourist Places in Uttarkashi in Hindi, History of Uttarkashi in Hindi, Best Places to visit in Uttarkashi Uttarakhand, Top 10 Best Pahadi Places to visit in Uttarkashi, Uttarkashi Best Places To Visit, Uttarkashi Best Tourist places, Uttarkashi Town Stock Photos and High-res Pictures,


Leave a Comment

गर्मी की छुट्टियों में घूमने का ले भरपूर मजा इन खूबसूरत हिल स्टेशन पर इस गर्मी जयपुर में एन्जॉय करने के लिए बेस्ट वाटर पार्क 2024 चिलचिलाती गर्मी में कूल वाइब्स के लिए घूम आएं इन ठंडी जगहों पर जयपुर के न्यू हवाई-जहाज वॉटर पार्क के टिकट में बड़ा बदलाव, जानिए जयपुर का यह फेमस वाटर पार्क मार्च 2024 में इस डेट को हो रहा है ओपन घूमे भारत के 10 सबसे खूबसूरत एवं रोमांटिक हनीमून डेस्टिनेशन वीकेंड पर दिल्ली के आसपास घूमने वाली 10 बेहतरीन जगहें मसूरी में है भीड़ तो घूमे चकराता, खूबसूरत नजारा आपका मन मोह लेगा। जेब में रखिए 5 हजार और घूम आएं इन दिल को छू लेने वाली जगहों पर वीकेंड में दिल्ली से 4 घंटे के अंदर घूमने की बेहद खूबसूरत जगहे गुलाबी शहर कहे जाने वाले जयपुर के प्लेसेस की खूबसूरत तस्वीरें रिवर राफ्टिंग और ट्रैकिंग के लिए फेमस है उत्तराखंड का ये छोटा कश्मीर उत्तराखंड का सीक्रेट हिल स्टेशन जहां बसती है शांति और सुंदरता हनीमून के लिए बेस्ट हैं भारत की ये सस्ती और सबसे रोमांटिक जगहें Gulmarg Snowfall: गुलमर्ग में बिछी बर्फ की सफेद चादर, देखे तस्वीरें शिमला – मनाली में शुरू हुई भारी बर्फबारी, देखे जन्नत से भी खूबसूरत तस्वीरें माता वैष्णो देवी भवन में हुई ताजा बर्फबारी, भवन ढका बर्फ की चादर से। सिटी पैलेस जयपुर के बारे में 10 रोचक तथ्य जान चकरा जायेगा सिर Askot: उत्तराखंड का सीक्रेट हिल स्टेशन जो है खूबसूरती से भरपूर Khatu Mela 2024: खाटू श्याम मेला में जाने से पहले कुछ जरूरी जानकारी