खूबसूरत नजारों के लिए जाना जाता है हिमाचल का पालमपुर, जाने सम्पूर्ण जानकारी: Famous Tourist Places In Palampur In Hindi

Famous Tourist Places In Palampur In Hindi:- पालमपुर हिमाचल प्रदेश का एक प्रसिद्ध और बेहद आकर्षक छोटा शहर है, जिसकी सुंदरता यहां आने वाले पर्यटकों को मंत्रमुग्ध कर देती है। नदियों के बहते पानी और खूबसूरत हरियाली का संगम इस शहर को एक खूबसूरत पर्यटन स्थल बनाता है। अत्यंत सुरम्य पालमपुर शहर के खूबसूरत जंगल, हरे-भरे चाय के बागान, अद्भुत दृश्य और बर्फीली चोटियाँ पर्यटकों को आकर्षित करती हैं।

हिमाचल प्रदेश का यह खूबसूरत पहाड़ी शहर हिमालय की गोद में बसा प्राकृतिक सुंदरता का खजाना है। इस शहर को ‘टी-सिटी’ के नाम से भी जाना जाता है। समुद्र तल से लगभग 1300 मीटर की ऊंचाई पर स्थित पालमपुर अपनी नदियों, खूबसूरत झरनों, हरी-भरी घाटियों, बर्फीली पहाड़ियों और चाय के बागानों के साथ-साथ यहां के कई खूबसूरत पर्यटन स्थलों के कारण एक बहुत प्रसिद्ध पर्यटन स्थल है।

Famous Tourist Places In Palampur In Hindi

पालमपुर के बारे में रोचक तथ्य – Interesting Facts About Palampur

  • पालमपुर के इतिहास पर नजर डालें तो पता चलता है कि पहले यह एक सिख राज्य का हिस्सा था, जो बाद में अंग्रेजों के नियंत्रण में आ गया और यह ब्रिटिश व्यापार का केंद्र बन गया।
  • 1905 के भूकंप से काफी नुकसान हुआ और इसके बाद अंग्रेजों ने 2000 हेक्टेयर में फैले चाय बागानों को स्थानीय लोगों को सौंपकर छोड़ दिया. पालमपुर हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले के अंतर्गत स्थित एक खूबसूरत हिल स्टेशन है।
  • पालमपुर पूरी तरह से धौलाधार पर्वत श्रृंखला से घिरा हुआ है।
  • पालमपुर से धौलाधार की पर्वत श्रृंखलाएं पूरी तरह से बर्फ से ढकी हुई दिखाई देती हैं।
  • पालमपुर में चाय बागान 2000 हेक्टेयर में फैले हुए हैं।
  • दलाई लामा का शहर मैक्लोडगंज, पालमपुर से 30 किमी दूर है।
  • पालमपुर के पास स्थित कांगड़ा किला भारत का सबसे पुराना किला है।

पालमपुर का इतिहास – History Of Palampur In Hindi

इस खूबसूरत राज्य के इतिहास पर नजर डालें तो इसे शिक्षक राज्य का हिस्सा माना जाता था। पालमपुर पर पहली बार अंग्रेज़ों की नज़र पड़ी और उन्होंने कब्ज़ा कर लिया। इसके बाद उन्होंने इसे अपना बिजनेस सेंटर भी बना लिया. 1905 में यहां भूकंप आया था जिससे काफी नुकसान हुआ था. अंग्रेजों ने लगभग 2000 हेक्टेयर में फैले चाय बागानों को स्थानीय लोगों को सौंप दिया और इस खूबसूरत हिल स्टेशन को छोड़ दिया।

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now
Instagram Channel (Join Now) Follow Now

पालमपुर से धौलाधार पर्वत श्रृंखला की खूबसूरत बर्फ से ढकी चोटियाँ दिखाई देती हैं जो बहुत ही आकर्षक और अद्भुत दृश्य प्रस्तुत करती हैं। पालमपुर धौलाधार पर्वत श्रृंखलाओं से घिरा हुआ है। इतिहास के अनुसार पालमपुर का नाम ‘पुलम’ शब्द से पड़ा है जिसका अर्थ है प्रचुर मात्रा में पानी।

पालमपुर घूमने का सबसे अच्छा समय – Best Time To Visit Palampur In Hindi

पालमपुर आकर्षक पहाड़ों और खूबसूरत जंगलों के बीच स्थित है, जहां गर्मी के मौसम में भी तापमान 30 डिग्री तक ही गिरता है, जिसके कारण पूरे साल यहां का मौसम यात्रा के लिए बहुत अच्छा रहता है। लेकिन यहां घूमने का सबसे अच्छा समय मार्च से जून और सितंबर से नवंबर तक है, जो बहुत ही सुखद और अच्छा माना जाता है।

मानसून के मौसम में यहां हल्की बारिश होती है, जिससे मौसम और भी हरा-भरा और सुहावना हो जाता है, लेकिन अगर आप बर्फबारी के रोमांच का अनुभव करने के लिए यात्रा करना चाहते हैं, तो आप सर्दियों के समय में यहां की यात्रा कर सकते हैं। क्योंकि इस दौरान पहाड़ सफेद बर्फ की चादर से ढक जाते हैं।

Famous Tourist Places In Palampur In Hindi – पालमपुर के प्रसिद्ध पर्यटन स्थल

अगर आप हिमाचल में किसी ठंडी जगह पर घूमने का प्लान बना रहे हैं तो आपको एक बार पालमपुर जरूर जाना चाहिए। पालमपुर हिमालय की आकर्षक धौलाधार पहाड़ी श्रृंखला से घिरा एक खूबसूरत स्थान है। पालमपुर में देखने के लिए कई आकर्षक पर्यटन स्थल हैं, जहां आप कुछ दिनों के लिए रुकने का प्लान बना सकते हैं। यहां के हरे-भरे चाय के बागान, प्राचीन मंदिर और धौलाधार पर्वत आपकी यात्रा को यादगार बना देंगे। आज इस आर्टिकल में हम आपको हिमाचल के खूबसूरत हिल स्टेशन पालमपुर की उन जगहों के बारे में बताने जा रहे हैं, जहां आप अपनी छुट्टियों के दौरान जा सकते हैं।

पालमपुर में टी गार्डन – Tea Garden in Palampur

Tea Garden in Palampur

पालमपुर के चाय बागान पर्यटकों के लिए प्रमुख आकर्षण हैं। दरअसल, यह जगह उत्तर भारत की चाय की राजधानी के रूप में जानी जाती है। आपको शहर के कोने-कोने में हर तरह के चाय के पौधे फैले हुए दिख जाएंगे। अगर आपको चाय पीना पसंद है तो यह जगह पालमपुर की अहम जगहों में से एक है। बगीचों में टहलना और बगीचे के बाहर चाय के पौधों और प्रकृति के दृश्य का आनंद लेना आपके मूड को बिल्कुल तरोताजा कर देगा। आप रोजाना सुबह 10:00 बजे से शाम 5:00 बजे तक बगीचों का दौरा कर सकते हैं।

कांगड़ा किला पालमपुर में घूमने की जगह – Kangra Fort Palampur Me Ghumne Ki Jagah

कांगड़ा किला हिमाचल का सबसे बड़ा, सबसे भव्य और संभवतः सबसे पुराना किला है जो कांगड़ा शहर के बाहरी इलाके में स्थित है। कहा जाता है कि एक समय इस किले में भारी मात्रा में धन रखा जाता था जिसे यहां स्थित बृजेश्वरी मंदिर में चढ़ाया जाता था। इस धन को लूटने के लिए इस किले पर कई बार आक्रमण किये गये। इस किले का जिक्र महाभारत जैसे महाकाव्य में भी देखने को मिलता है, जिसके कारण इसे भारत का सबसे पुराना किला माना जाता है। यह किला व्यास नदी और उसकी सहायक नदियों के किनारे बना हुआ है।

यह वास्तुकला का बेहद शानदार आकर्षण है और भारत के साथ-साथ हिमाचल प्रदेश का भी एक प्रमुख पर्यटन स्थल है, जिसे देखने के लिए साल भर पर्यटक यहां आते रहते हैं। इस किले की भव्यता देखकर पर्यटक मंत्रमुग्ध हो जाते हैं।

नेगल खड्ड – Neugal Khad

पालमपुर से लगभग 3 से 4 किलोमीटर की दूरी पर स्थित बहती जलधारा को नेगल खड्ड का नाम दिया गया है। यह स्थान पिकनिक मनाने वालों के बीच सबसे लोकप्रिय है। नदी के ऊपर एक देहाती लोहे का पुल भी है, जो काफी पुराना दिखता है। धौलाधार पर्वत श्रृंखला के ऊंचे पहाड़ों का दृश्य और झरने का कानफोड़ू शोर बेहद सुकून देने वाला है। यह खड्ड पालमपुर के सबसे आकर्षक पर्यटक आकर्षणों में से एक है। आप यहां खूब फोटोग्राफी भी कर सकते हैं। धारा के पास एक पार्क भी है, जिसे नागेल पार्क कहा जाता है। यहां कई छोटे-छोटे कैफे हैं, जहां बैठकर आप टेस्टी स्नैक्स का मजा ले सकते हैं।

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now
Instagram Channel (Join Now) Follow Now

धौलाधार रेंज पालमपुर हिमाचल – Dhauladhar Range In Palampur Tourist Places In Hindi

हिमालय की दक्षिणी श्रृंखला को कवर करते हुए, यह धौलाधार रेंज में सबसे आकर्षक ट्रेक में से एक है। कांगड़ा के उत्तर में स्थित यह ट्रैक एक बेहद लोकप्रिय पर्यटन स्थल है। धौलाधार श्रेणी हिमालय के मध्य भाग में स्थित है। धौलाधार का शाब्दिक अर्थ है – धौला (स्पष्ट रूप से दिखाई देने वाला) + धार (पहाड़ी श्रृंखला)। यहां से दिखने वाले नजारे और यहां का अद्भुत रोमांच पर्यटकों को आकर्षित करता है। अगर आप यहां घूमने आ रहे हैं तो इस खूबसूरत पर्यटन स्थल पर जरूर जाएं।

चामुंडा देवी मंदिर – Chamunda Devi Temple Palampur

महत्वपूर्ण धार्मिक केंद्रों में से एक, चामुंडा देवी मंदिर को 51 शक्तिपीठों में गिना जाता है। 700 साल पुराना यह मंदिर पालमपुर से 10 किमी दूर पर्वत चोटियों से घिरा हुआ है। यह मंदिर देवी चामुंडा या दुर्गा को समर्पित है और कई भक्त इस धार्मिक स्थान पर ध्यान करने भी आते हैं।

करेरी झील – Kareri Lake In Hindi

करेरी झील एक उथली और ताजे पानी की झील है जो हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले में धर्मशाला से लगभग 9 किमी उत्तर पश्चिम में धौलाधार पर्वतमाला में स्थित है, जिसकी सतह समुद्र तल से 2934 मीटर ऊपर है। एक प्रमुख पर्यटन स्थल होने के अलावा, करेरी झील धौलाधार रेंज में एक बहुत लोकप्रिय ट्रैकिंग स्थल भी है।

इस झील में पानी बर्फ पिघलने से आता है और यह झील उथली है और पानी की दृश्यता बहुत अधिक है। हिमाचल प्रदेश की यात्रा करने वाले अधिकांश बैकपैकर ट्रिंड या इंद्रहार पास सर्किट ट्रैकिंग के लिए आते हैं, जो करारी झील की एक छोटी यात्रा है जो एक शानदार और शांत अनुभव देती है।

पालमपुर कैसे पहुंचे – How To Reach Palampur In Hindi

पालमपुर एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल है जहां अगर आप घूमने जाना चाहते हैं तो आप अपनी सुविधा के अनुसार तीनों मार्गों से यहां आ सकते हैं। आइए जानते हैं यहां पहुंचने के रास्तों के बारे में-

अगर आप हवाई मार्ग से पालमपुर जाना चाहते हैं तो निकटतम हवाई अड्डा गग्गल हवाई अड्डा है। जो पालमपुर शहर से 25 किमी की दूरी पर स्थित है। गग्गल हवाई अड्डा देश के अधिकांश हवाई अड्डों से अच्छी तरह जुड़ा हुआ है। हवाई अड्डे से आप कांगड़ा पहुंचने के लिए ऑटोरिक्शा, बस और टैक्सी ले सकते हैं। सड़क मार्ग से गग्गल से पालमपुर की दूरी तय करने में आपको 1 घंटा लगेगा।

जो पर्यटक ट्रेन से यात्रा करना चाहते हैं, उनके लिए हम आपको बता दें कि पालमपुर का निकटतम रेलवे स्टेशन पठानकोट रेलवे स्टेशन है जो पालमपुर से 90 किमी की दूरी पर है। पठानकोट से पालमपुर पहुंचने के लिए टैक्सी किराये पर लेना या बस से यात्रा करना सबसे अच्छा रहेगा।

पालमपुर हिमाचल प्रदेश के अधिकांश पड़ोसी क्षेत्रों और महत्वपूर्ण स्थानों से सड़क मार्ग द्वारा अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। राज्य की निजी बसें मंडी, पठानकोट, धर्मशाला आदि से पालमपुर के लिए नियमित रूप से चलती हैं। HRTC बसें भी दिल्ली को पालमपुर से सड़क मार्ग से जोड़ती हैं।

Tags

Famous Tourist Places In Palampur In Hindi, Palampur Tourism Information In Hindi, Places To Visit In Palampur Himachal Pradesh In May June Month, Palampur Me Ghumne ki Jagah, Palampur Tourism Information In Hindi, Best Time To Visit Palampur In Hindi, Palampur Tourism Places, Himachal Tourism In Hindi, Palampur Tourist Places in Hindi, BEST Places to Visit in Palampur, Most Beautiful Places To Visit In Palampur In 2023, Top 10 Places To Visit in Palampur in 2 Days, places to visit in palampur for couples,

Famous Tourist Places In Palampur In Hindi, Palampur Tourism Information In Hindi, Places To Visit In Palampur Himachal Pradesh In May June Month, Palampur Me Ghumne ki Jagah, Palampur Tourism Information In Hindi, Best Time To Visit Palampur In Hindi, Palampur Tourism Places, Himachal Tourism In Hindi, Palampur Tourist Places in Hindi, BEST Places to Visit in Palampur, Most Beautiful Places To Visit In Palampur In 2023, Top 10 Places To Visit in Palampur in 2 Days, places to visit in palampur for couples,


1 thought on “खूबसूरत नजारों के लिए जाना जाता है हिमाचल का पालमपुर, जाने सम्पूर्ण जानकारी: Famous Tourist Places In Palampur In Hindi”

Leave a Comment

जयपुर का यह फेमस वाटर पार्क मार्च 2024 में इस डेट को हो रहा है ओपन घूमे भारत के 10 सबसे खूबसूरत एवं रोमांटिक हनीमून डेस्टिनेशन वीकेंड पर दिल्ली के आसपास घूमने वाली 10 बेहतरीन जगहें मसूरी में है भीड़ तो घूमे चकराता, खूबसूरत नजारा आपका मन मोह लेगा। जेब में रखिए 5 हजार और घूम आएं इन दिल को छू लेने वाली जगहों पर वीकेंड में दिल्ली से 4 घंटे के अंदर घूमने की बेहद खूबसूरत जगहे गुलाबी शहर कहे जाने वाले जयपुर के प्लेसेस की खूबसूरत तस्वीरें रिवर राफ्टिंग और ट्रैकिंग के लिए फेमस है उत्तराखंड का ये छोटा कश्मीर उत्तराखंड का सीक्रेट हिल स्टेशन जहां बसती है शांति और सुंदरता हनीमून के लिए बेस्ट हैं भारत की ये सस्ती और सबसे रोमांटिक जगहें Gulmarg Snowfall: गुलमर्ग में बिछी बर्फ की सफेद चादर, देखे तस्वीरें शिमला – मनाली में शुरू हुई भारी बर्फबारी, देखे जन्नत से भी खूबसूरत तस्वीरें माता वैष्णो देवी भवन में हुई ताजा बर्फबारी, भवन ढका बर्फ की चादर से। सिटी पैलेस जयपुर के बारे में 10 रोचक तथ्य जान चकरा जायेगा सिर Askot: उत्तराखंड का सीक्रेट हिल स्टेशन जो है खूबसूरती से भरपूर Khatu Mela 2024: खाटू श्याम मेला में जाने से पहले कुछ जरूरी जानकारी 300 साल से अधिक समय से पानी में डूबा है जयपुर का ये अनोखा महल राम मंदिर के दर्शन की टाइमिंग में हुआ बदलाव, जानिए नया शेड्यूल अयोध्या में श्री राम मंदिर में राम लला विराजमान, देखे पहली तस्वीरें अयोध्या में श्री राम की मूर्ति का रंग क्यों है काला? जाने इसके पीछे का रहस्य