दुनिया का सबसे भूतिया गाँव कुलधरा राजस्थान, जानें पूरी कहानी: Jaisalmer Haunted Village Kuldhara Story In Hindi

Jaisalmer Haunted Village Kuldhara Story In Hindi:- राजस्थान का कुलधरा गांव न सिर्फ भारत बल्कि दुनिया के सबसे भुतहा गांवों में से एक है। 200 साल बाद भी यह गांव आज तक दोबारा नहीं बस सका। इस लेख के माध्यम से उस कहानी के बारे में जहां 5000 लोगों ने रातोंरात गांव खाली कर दिया।

भारत की पारंपरिक भूमि में कई ऐसे रहस्य दफ़न हैं जो कई वर्षों या यूं कहें कि सदियों बाद भी आज भी उसी तरह ताज़ा और अनसुलझे हैं जैसे पहले हुआ करते थे। ये रहस्य ऐसे हैं कि इन्हें जितना सुलझाने की कोशिश करो ये उतना ही उलझते जाते हैं। ऐसा ही एक राज राजस्थान के जैसलमेर जिले के कुलधरा गांव में भी दफन है। यह गांव पिछले 170 सालों से वीरान पड़ा है। एक ऐसा गांव जो रातोंरात वीरान हो गया और सदियों से लोग आज तक नहीं समझ पाए कि इस गांव के वीरान होने का रहस्य क्या था।

Jaisalmer Haunted Village Kuldhara Story In Hindi

Jaisalmer Haunted Village Kuldhara Story In Hindi – कुलधरा गाँव की भूतिया कहानी और इतिहास

राजस्थान की गोल्डन सिटी जैसलमेर से 20 किलोमीटर की दूरी पर स्थित कुलधरा गांव पर्यटकों द्वारा देखी जाने वाली सबसे खास जगहों (Best Places to Visit in Jaisalmer) में से एक है। जब आप इस जगह पर जाएंगे तो आपको पता चलेगा कि यह गांव राजस्थान के सबसे खास आकर्षणों में से एक है जिसे आपको अपने यात्रा कार्यक्रम में जरूर शामिल करना चाहिए। राज्य के रेगिस्तान के अलावा यह जगह सुंदर और खूबसूरती के कारण काफी मशहूर है। कुछ लोग कुलधरा गांव को डरावना और भूतिया बताते हैं।

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now
Instagram Channel (Join Now) Follow Now

इस गांव और इसके आस-पास कई भूतिया और असाधारण गतिविधियों की कहानियां हैं, लेकिन इसका पुख्ता सबूत आज तक कोई नहीं दे पाया है। कुलधरा गाँव अपनी स्थापत्य सुंदरता और इतिहास के कारण घूमने के लिए एक बहुत ही दिलचस्प जगह है। अगर आप कुलधरा गांव के बारे में अधिक जानना चाहते हैं या इस जगह पर जाने की योजना बना रहे हैं तो इस Blog (Jaisalmer Haunted Village Kuldhara Story In Hindi) को जरूर पढ़ें क्योंकि इसमें हमने कुलधरा का इतिहास, रहस्य, इतिहास और घूमने की जगहों के बारे में पूरी जानकारी दी है।

Jaisalmer Haunted Village Kuldhara Story In Hindi

Kuldhara Village History In Hindi – कुलधरा का इतिहास 

कुलधरा गाँव मूलतः ब्राह्मणों द्वारा बसाया गया था, जो पाली क्षेत्र से जैसलमेर चले आये और कुलधरा गाँव में बस गये। इस गांव की किताबों और साहित्यिक वृत्तांतों में कहा गया है कि पाली के एक ब्राह्मण काधन ने सबसे पहले इस स्थान पर अपना घर बनाया और एक तालाब भी खोदा, जिसका नाम उन्होंने उधनसर रखा। पाली ब्राह्मणों को पालीवाल कहा जाता था।

कुलधरा गांव में ऐसे कई शिलालेख और नक्काशी पाए गए, जिनमें से कई में कुलधरा को ब्राह्मण जाति का निवास स्थान बताया गया है। कई इतिहासकारों और अन्य विद्वानों का मानना है कि कुलधरा में पालीवाल ब्राह्मणों के निवास के कारण गांव का नाम उनकी जाति के नाम पर पड़ा। सबसे आश्चर्य की बात तो यह है कि यहां के निवासी अंतरजातीय विवाह का चलन मानते थे लेकिन इसका प्रचलन केवल ब्राह्मणों में ही था।

Mystery and Story of Kuldhara Village in Hindi – कुलधरा गांव का रहस्य और कहानी

Jaisalmer Haunted Village Kuldhara Story In Hindi

कुलधरा गांव की किंवदंती या कहानी एक पर्यटक आकर्षण (Jaisalmer Haunted Village Kuldhara Story In Hindi) के रूप में इसकी सबसे बड़ी संपत्ति है। इस गांव की कहानी सदियों से चली आ रही है और स्थानीय लोककथा बन गई है। आप चंद रुपयों में गांव वालों से कुलधरा की कहानी बखूबी सुन सकते हैं।

कुलधरा गांव के वीरान होने का एक अजीब रहस्य है। दरअसल, कुलधरा की कहानी करीब 200 साल पहले शुरू हुई थी, जब कुलधरा कोई खंडहर नहीं था, बल्कि आसपास के 84 गांव पालीवाल ब्राह्मणों द्वारा बसाए गए थे। लेकिन तभी जैसे ही कुलधरा को किसी की बुरी नजर लगी तो वह शख्स था रियासत का दीवान सालम सिंह।

अय्याश दीवान सलाम सिंह की गंदी नजर गांव की एक खूबसूरत लड़की पर पड़ी। दीवान उस लड़की के पीछे इतना पागल था कि वह किसी भी तरह से उसे पाना चाहता था। इसके लिए उसने ब्राह्मणों पर दबाव बनाना शुरू कर दिया। हद तो तब हो गई जब शक्ति से भरपूर दीवान ने लड़की के घर संदेश भेजा कि अगर अगली पूर्णिमा तक लड़की उसे नहीं मिली तो वह गांव पर हमला कर उसे ले जाएगा।

दीवान और गाँव वालों के बीच की यह लड़ाई अब एक कुंवारी लड़की के सम्मान के साथ-साथ गाँव के स्वाभिमान की भी थी। गाँव की चौपाल पर पालीवाल ब्राह्मणों की एक बैठक हुई और 5000 से अधिक परिवारों ने अपने सम्मान के लिए रियासत छोड़ने का निर्णय लिया। ऐसा कहा जाता है कि सभी 84 गांव वाले फैसला लेने के लिए एक मंदिर में इकट्ठा हुए और पंचों ने फैसला किया कि चाहे कुछ भी हो जाए, वे अपनी लड़की उस दीवान को नहीं देंगे।

अगली शाम कुलधरा इतना वीरान हो गया कि आज पक्षी भी उस गाँव की सीमा में प्रवेश नहीं करते। ऐसा कहा जाता है कि उन ब्राह्मणों ने गाँव छोड़ते समय इस स्थान को श्राप दिया था। आपको बता दें कि बदलते वक्त के साथ 82 गांवों का पुनर्निर्माण हो चुका है, लेकिन दो गांव कुलधरा और खाभा तमाम कोशिशों के बाद भी आज तक आबाद नहीं हो पाए हैं. ये गांव अब भारतीय पुरातत्व विभाग के संरक्षण में हैं, जो रोजाना दिन के उजाले में पर्यटकों के लिए खोले जाते हैं।

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now
Instagram Channel (Join Now) Follow Now
Mystery and Story of Kuldhara Village in Hindi

What Happens in Kuldhara Village – कुलधरा गांव में क्या होता है?

कहा जाता है कि यह गांव आध्यात्मिक शक्तियों के कब्जे में है। पर्यटन स्थल में तब्दील हो चुके कुलधरा गांव में घूमने आने वालों के मुताबिक यहां रहने वाले पालीवाल ब्राह्मणों की आहट आज भी सुनाई देती है। उन्हें वहां हर पल ऐसा महसूस होता है कि कोई आसपास घूम रहा है।

वहां हमेशा बाजार की हलचल, महिलाओं के बात करने की आवाज, उनकी चूड़ियों और पायलों की आवाज आती रहती है। प्रशासन ने इस गांव के बाहरी इलाके में एक गेट बनवाया है, जिसके पार दिन में तो पर्यटक घूमने के लिए आते रहते हैं, लेकिन रात के समय इस गेट को पार करने की कोई हिम्मत नहीं करता।

कुलधरा गांव में एक ऐसा मंदिर है जो आज भी श्राप से मुक्त है। यहां एक बावड़ी भी है जो उन दिनों पीने के पानी का स्रोत थी। यहां एक खामोश गलियारे में उतरती हुई कुछ सीढ़ियां भी हैं, कहा जाता है कि यहां शाम ढलने के बाद अक्सर कुछ आवाजें सुनाई देती हैं। लोगों का मानना है कि वह आवाज 18वीं सदी का दर्द है, जिससे पालीवाल ब्राह्मण गुजरे थे. गांव में कुछ घर ऐसे हैं, जहां अक्सर रहस्यमयी परछाइयां आंखों के सामने आ जाती हैं।

दिन के उजाले में सब कुछ इतिहास की कहानी जैसा लगता है, लेकिन शाम ढलते ही कुलधरा के दरवाजे बंद हो जाते हैं और आध्यात्मिक शक्तियों की एक रहस्यमय दुनिया दिखाई देती है। लोगों का कहना है कि रात के समय जो भी यहां आया वह हादसे का शिकार हो गया।

Mystery and Story of Kuldhara Village in Hindi

पैरानॉर्मल सोसायटी की टीम ने कुलधरा गांव में रात बिताई (Jaisalmer Haunted Village Kuldhara Story In Hindi)

मई 2013 में दिल्ली से भूत-प्रेतों पर रिसर्च कर रही पैरानॉर्मल सोसायटी की टीम ने कुलधरा गांव में रात बिताई. टीम ने माना कि यहां जरूर कुछ असामान्य है. शाम को उनका ड्रोन कैमरा आसमान से गांव की तस्वीरें ले रहा था, लेकिन जैसे ही वह उस बावड़ी के ऊपर आया, वह कैमरा हवा में गोता लगाकर जमीन पर गिर गया। मानो कोई था जिसे वह कैमरा मंजूर नहीं था। यह सच है कि कुलधरा से हजारों परिवारों का पलायन हुआ, यह भी सच है कि कुलधरा में आज भी राजस्थानी संस्कृति की झलक मिलती है।

Things To Do At Kuldhara Village in Hindi – कुलधरा गाँव मे क्या क्या कर सकते है

Things To Do At Kuldhara Village in Hindi

कुलधरा गाँव अब भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण द्वारा संरक्षित एक ऐतिहासिक स्थल है, जिसके कारण पर्यटक अब उस स्थान पर जा सकते हैं और घूमकर पता लगा सकते हैं कि गाँव कैसा हुआ करता था। कुलधरा गाँव एक विशाल क्षेत्र में फैला हुआ है जिसमें लगभग 85 छोटी बस्तियाँ शामिल हैं। कुछ ईंटों की संरचनाओं को छोड़कर गाँव की सभी झोपड़ियाँ जीर्ण-शीर्ण हैं। इनमें से कुछ झोपड़ियाँ इतनी बुरी तरह टूट गई हैं कि वे रेगिस्तान की रेत में लगभग दबी हुई हैं। इस गांव के पास एक देवी का पुराना मंदिर भी है जिसके अंदर कई शिलालेख लगे हुए हैं।

इन प्राचीन शिलालेखों ने पुरातत्वविदों को गाँव और उसके प्राचीन निवासियों के बारे में जानकारी इकट्ठा करने में मदद की है। कुलधरा गांव उन लोगों के लिए स्वर्ग है जो अपनी यात्रा के दौरान भारत में विशेष अनुभवों की तलाश में हैं और इतिहास के बारे में जानने में रुचि रखते हैं। जो लोग फोटोग्राफी या वीडियोग्राफी में रुचि रखते हैं और कुछ चीजों पर लघु फिल्में या वृत्तचित्र फिल्में बनाना चाहते हैं तो यह उन लोगों के लिए एक आदर्श स्थान है।

The Truth About the Ghosts of Kuldhara Village – कुलधरा गांव के भूतों के बारे में सच्चाई

The Truth About the Ghosts of Kuldhara Village

इतिहासकारों के अनुसार, पालीवाल ब्राह्मणों ने अपनी संपत्ति, जिसमें भारी मात्रा में सोना-चांदी और हीरे-जवाहरात थे, जमीन के अंदर दबा दी थी। यही कारण है कि जो भी यहां आता है वह हर जगह खुदाई शुरू कर देता है। इस आशा से कि शायद वह सोना उसके हाथ लग जाये। यह गांव आज भी जगह-जगह खुदा हुआ मिलता है।

Kuldhara Village Timing And Entry Fees In Hindi – कुलधरा गांव घूमने का समय और प्रवेश शुल्क

आप रोजाना सुबह 8 बजे से शाम 6 बजे तक गांव में घूम सकते हैं। चूंकि इस जगह को भुतहा माना जाता है, इसलिए स्थानीय लोग सूर्यास्त के बाद इसका गेट बंद कर देते हैं। यदि आप कार से जा रहे हैं तो कुलधरा गांव में प्रवेश शुल्क 10 रुपये प्रति व्यक्ति है और यदि आप कार से अंदर जा रहे हैं तो 50 रुपये है।

Kuldhara Village Timing And Entry Fees In Hindi - कुलधरा गांव घूमने का समय और प्रवेश शुल्क

Best Time To Visit Kuldhara Village In Hindi – कुलधरा गाँव जाने का सबसे अच्छा समय

राजस्थान एक ऐसा राज्य है जो साल के आधे समय अत्यधिक गर्म रहता है, जिसके कारण कुलधरा की यात्रा का आदर्श समय अक्टूबर से मार्च तक होगा। इन महीनों में गर्मी थोड़ी कम होती है इसलिए इस समय आप सूरज की चिलचिलाती गर्मी से बच सकते हैं और रेगिस्तान में घूमने का आनंद ले सकते हैं।

How To Reach Kuldhara Village In Hindi – कुलधरा गाँव कैसे पहुँचे

कुलधरा गाँव जैसलमेर के मुख्य शहर से लगभग 18-20 किलोमीटर की दूरी पर है। इसलिए राजस्थान में यात्रा करते समय, जब आप जैसलमेर पहुंचेंगे, तो आप शहर से कैब ले सकते हैं। ये कैब आपको कुलधरा गांव तक ले जाएंगी।

अगर आप जैसलमेर के कुलधरा गांव जाने के लिए हवाई मार्ग चुनते हैं तो हम आपको बता दें कि कुलधरा का निकटतम हवाई अड्डा जैसलमेर है, जो इस गांव से 22 किलोमीटर दूर है और यह हवाई अड्डा मुंबई, दिल्ली और बेंगलुरु से बेहतर है। एक तरह से जुड़ा हुआ. सबसे अच्छा विकल्प जोधपुर हवाई अड्डा है जो लगभग 285 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

कुलधरा गांव से लगभग 2 कोलोमीटर की दूरी पर जैसलमेर का रेलवे स्टेशन है। यह स्टेशन दिल्ली, मुंबई और बैंगलोर देश के अन्य प्रमुख शहरों से बहुत अच्छी तरह से जुड़ा हुआ हैं।

Kuldhara Village Images

Ignore Tags – Jaisalmer Haunted Village Kuldhara Story In Hindi, Jaisalmer Haunted Village Kuldhara Story In Hindi, Jaisalmer Haunted Village Kuldhara Story In Hindi, Jaisalmer Haunted Village Kuldhara Story In Hindi, Jaisalmer Haunted Village Kuldhara Story In Hindi, Story Of Kuldhara Village In Rajasthan In Hindi,  Kuldhara Haunted Village In Rajasthan Jaisalmer, Best Places To Visit In Jaisalmer, Kuldhara Village Images

Ignore Tags – Jaisalmer Haunted Village Kuldhara Story In Hindi, Jaisalmer Haunted Village Kuldhara Story In Hindi, Jaisalmer Haunted Village Kuldhara Story In Hindi, Jaisalmer Haunted Village Kuldhara Story In Hindi, Jaisalmer Haunted Village Kuldhara Story In Hindi, Story Of Kuldhara Village In Rajasthan In Hindi,  Kuldhara Haunted Village In Rajasthan Jaisalmer, Best Places To Visit In Jaisalmer, Kuldhara Village Images


Leave a Comment

वीकेंड पर दिल्ली के आसपास घूमने वाली 10 बेहतरीन जगहें मसूरी में है भीड़ तो घूमे चकराता, खूबसूरत नजारा आपका मन मोह लेगा। जेब में रखिए 5 हजार और घूम आएं इन दिल को छू लेने वाली जगहों पर वीकेंड में दिल्ली से 4 घंटे के अंदर घूमने की बेहद खूबसूरत जगहे गुलाबी शहर कहे जाने वाले जयपुर के प्लेसेस की खूबसूरत तस्वीरें रिवर राफ्टिंग और ट्रैकिंग के लिए फेमस है उत्तराखंड का ये छोटा कश्मीर उत्तराखंड का सीक्रेट हिल स्टेशन जहां बसती है शांति और सुंदरता हनीमून के लिए बेस्ट हैं भारत की ये सस्ती और सबसे रोमांटिक जगहें Gulmarg Snowfall: गुलमर्ग में बिछी बर्फ की सफेद चादर, देखे तस्वीरें शिमला – मनाली में शुरू हुई भारी बर्फबारी, देखे जन्नत से भी खूबसूरत तस्वीरें माता वैष्णो देवी भवन में हुई ताजा बर्फबारी, भवन ढका बर्फ की चादर से। सिटी पैलेस जयपुर के बारे में 10 रोचक तथ्य जान चकरा जायेगा सिर Askot: उत्तराखंड का सीक्रेट हिल स्टेशन जो है खूबसूरती से भरपूर Khatu Mela 2024: खाटू श्याम मेला में जाने से पहले कुछ जरूरी जानकारी 300 साल से अधिक समय से पानी में डूबा है जयपुर का ये अनोखा महल राम मंदिर के दर्शन की टाइमिंग में हुआ बदलाव, जानिए नया शेड्यूल अयोध्या में श्री राम मंदिर में राम लला विराजमान, देखे पहली तस्वीरें अयोध्या में श्री राम की मूर्ति का रंग क्यों है काला? जाने इसके पीछे का रहस्य अयोध्या राम मंदिर: अद्भुत रोचक तथ्य जो आपको जानना चाहिए राजस्थान का कश्मीर जो है हरियाली से भरपूर खूबसूरत हिल स्टेशन