ओम बन्ना की पूरी सच्ची कहानी और दर्शन की जानकारी जानिए: Shri Om Banna Temple Information In Hindi

Shri Om Banna Temple Information In Hindi:- बुलेट बाबा (Shri Om Banna) मंदिर का इतिहास एक दिलचस्प कहानी से जुड़ा है। बीस साल से भी अधिक समय पहले इसी स्थान पर एक भीषण बाइक दुर्घटना हुई थी, जिसमें स्थानीय ग्राम नेता ओम सिंह राठौड़ के इक्कीस वर्षीय बेटे की मौके पर ही मौत हो गई थी।

राजस्थान भले ही किलों और महलों के प्रदेश के रूप में मशहूर है, लेकिन इसे विचित्र मंदिरों की भूमि भी कहा जाए तो गलत नहीं होगा। इस राज्य में रहस्यमयी जगहों के अलावा कई रहस्यमयी मंदिर भी हैं। इस सूची में राजस्थान का Om Banna Mandir भी शामिल है। अगर आप राजस्थान जाने का प्लान बना रहे हैं तो एक बार इस मंदिर के दर्शन करना न भूलें। आइए जानते हैं इस मंदिर की खासियत और दिलचस्प कहानियां।

Shri Om Banna Temple Information In Hindi

Shri Om Banna Temple Information In Hindi – ओम बन्ना मंदिर (बुलेट बाबा मंदिर) के दर्शन की जानकारी

दोस्तों भारत एक ऐसा आध्यात्मिक देश है, जहां देवी-देवताओं के साथ-साथ पेड़-पौधों और जानवरों की भी पूजा की जाती है। लेकिन यहां हम एक ऐसी जगह के बारे में बात करने जा रहे हैं जहां किसी व्यक्ति की मौत के बाद उसकी बुलेट मोटरसाइकिल की पूजा की जाती है। आपको जानकर हैरानी होगी कि राजस्थान में लोग बुलेट मोटरसाइकिल की पूजा करते हैं, जो अपने आप में किसी रहस्य से कम नहीं है। और लोग उस बुलेट मोटर साइकिल से मन्नत मांगते हैं.

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now
Instagram Channel (Join Now) Follow Now

Om Banna Temple सड़क के बिल्कुल किनारे पर बना हुआ है। इस मंदिर में एक देवता की नहीं बल्कि मोटरसाइकिल की पूजा की जाती है। इस मंदिर में स्थानीय लोगों के अलावा पुलिसकर्मी भी पूजा करने आते हैं। अगर आप जोधपुर घूमने का प्लान बना रहे हैं तो समय का ध्यान रखें, क्योंकि गर्मी के मौसम में यहां का तापमान काफी ज्यादा रहता है। जिससे यात्रा करना कठिन हो जाएगा। यहां घूमने के लिए सर्दी का मौसम सबसे अच्छा है। यहां जाने का सबसे अच्छा समय सितंबर से मार्च है, इस दौरान तापमान अच्छा रहता है।

Shri Om Banna Temple Information In Hindi

Om Banna Temple Kaha Hai – ओम बन्ना मंदिर कहा है?

Om Banna Temple In Hindi- ओम बन्ना मंदिर, जिसे ‘बुलेट बाबा मंदिर’ के नाम से जाना जाता है, एक असामान्य पृष्ठभूमि वाला मंदिर है, जो पाली और जोधपुर के बीच छोटिला गांव के पास NH65 पर स्थित है। यह ओम बन्ना को समर्पित एक मंदिर है, जहां एक यात्री अपनी 350 सीसी रॉयल एनफील्ड बुलेट के साथ गया था। जोधपुर से 50 किमी और पाली से 20 किमी दूर स्थित यह मंदिर धार्मिक रूप से आसपास के ग्रामीणों और भक्तों के लिए आकर्षण का केंद्र है।

Om Banna Real Story In Hindi – ओम बन्ना मंदिर का इतिहास

Om Banna Real Story In Hindi

Bullet Baba Temple History In Hindi:- लोगों का कहना है कि 23 दिसंबर 1988 को ओम सिंह राठौड़ नाम का 23 वर्षीय लड़का अपनी ससुराल पाली से बगड़ी, सांडेराव होते हुए अपने गांव चोटिला आ रहा था. तभी उनकी बुलेट का एक्सीडेंट हो गया और उनकी बुलेट एक पेड़ से जा टकराई और ओम बन्ना की मौके पर ही मौत हो गई. वहां रहने वाले लोगों का कहना है कि इस स्थान पर आए दिन कोई न कोई वाहन दुर्घटनाग्रस्त होता रहता है, जिस पेड़ के पास ओम सिंह राठौड़ का एक्सीडेंट हुआ था, उसी स्थान पर रहस्यमय तरीके से कई वाहन दुर्घटनाग्रस्त होते रहते थे और इस स्थान पर कई लोगों की जान भी जा चुकी है.

Om Banna Bike Accident:- ओम सिंह राठौड़ इस रॉयल एनफील्ड 350cc बाइक को चला रहे थे जब यह एक पेड़ से टकरा गई और उनकी मौके पर ही मौत हो गई। पुलिस इस बाइक को घटनास्थल से थाने ले गयी. अगले दिन बाइक वहां से गायब थी। पुलिस ने जांच शुरू की तो पता चला कि बाइक उसी जगह मौजूद थी जहां हादसा हुआ था. पुलिस इस मोटरसाइकिल को दोबारा अपने साथ थाने ले आई। इस बार पेट्रोल निकाल दिया गया और चेन से लॉक कर दिया गया। फिर भी अगली सुबह बाइक उसी स्थान पर देखी गई।

जब स्थानीय लोगों को इस घटना के बारे में पता चला, तो उन्होंने ओम बन्ना को समर्पित एक मंदिर बनाया और बाइक की पूजा करना शुरू कर दिया। यही कारण है कि इस मंदिर को Bullet Baba Mandir भी कहा जाता है। लोगों का मानना है कि जो भी इस मंदिर में आकर ओम बन्ना का आशीर्वाद लेता है, उसके जीवन में कभी कोई घातक दुर्घटना नहीं होती है।

वहां रहने वाले लोगों और बुजुर्गों का कहना है कि इस दुर्घटना के बाद ओम बन्ना की आत्मा अक्सर रात में वाहनों को दुर्घटनाओं से बचाने के उपाय करती और ड्राइवरों को दुर्घटनाओं के बारे में चेतावनी देते हुए देखी जाती थी। लोगों का कहना है कि ओम बन्ना की आत्मा दुर्घटना से पहले वाहनों को या तो रोक देती थी या उनकी गति धीमी कर देती थी।

ताकि कोई भी व्यक्ति अकाल मृत्यु का शिकार न हो और उसके बाद आज तक वहां दोबारा कोई दुर्घटना न घटे। आज भी इस रास्ते पर जाने वाला हर यात्री ओम बन्ना और उनकी बाइक को प्रणाम करने के बाद ही आगे बढ़ता है। और आपकी उज्ज्वल यात्रा के लिए शुभकामनाएं देता हूं।

Bullet Baba Temple History In Hindi

क्यों आना चाहिए ओम बन्ना मंदिर

ओम बन्ना की मृत्यु के बाद भी उनकी आत्मा द्वारा किए गए ऐसे अच्छे कार्यों को देखकर स्थानीय लोगों में उनके प्रति श्रद्धा की भावना बढ़ गई और इसी श्रद्धा का परिणाम है कि ओम बन्ना के इस स्थान पर हर समय उनकी पूजा करने वालों की भीड़ लगी रहती है। भक्तों की भीड़ और उस रास्ते से गुजरने वाला हर यात्री यहीं रुकता है और ॐ का जाप करके सफल यात्रा की कामना करने के बाद ही आगे बढ़ता है।

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now
Instagram Channel (Join Now) Follow Now

बुलेट बाबा के इस मंदिर में एक पुजारी भी हैं, जो हर दिन मंदिर में पूजा-पाठ की जिम्मेदारी निभाते हैं। अत: इस घटना के बाद यह मंदिर पूरे क्षेत्र में बुलेट बाबा के नाम से प्रसिद्ध हो गया। इतना ही नहीं, अब यहां बड़ी संख्या में लोग धोक लगाने आते हैं, जबकि कहा जाता है कि जो भी नए थानेदार के तौर पर रोहट थाने में आता है, वो ओम बन्ना के मंदिर में धोक लगाने भी आता है. लोग यहां सफल यात्रा की मन्नतें मांगने आते हैं। यह मंदिर पूरी दुनिया में अनोखा और एकमात्र बुलेट मंदिर है।

ओम बन्ना मंदिर के आसपास कई पर्यटन स्थल हैं जहां पर जाया जा सकता है। इसमें जोधपुर के ऐतिहासिक स्मारक और अन्य जल मंदिर शामिल हैं। इनमें परशुराम महादेव मंदिर और जवाई बांध आदि भी शामिल हैं।

Om Banna Temple In Hindi

Om Banna Temple Timing In Hindi – श्री बुलेट बाबा मंदिर के खुलने और बंद होने का समय

अगर आप जोधपुर में ओम बन्ना मंदिर जाने का प्लान बना रहे हैं तो आपको बता दें कि ओम बन्ना मंदिर हर दिन सुबह 6 बजे से रात 9 बजे तक पर्यटकों के लिए खुला रहता है।

Om Banna Temple Entry Fees In Hindi

आपको बता दे बुलेट बाबा मंदिर में पर्यटकों के प्रवेश के लिए कोई प्रवेश शुल्क नही है।

Best Time To Visit Bullet Baba Temple In Hindi – ओम बन्ना मंदिर जाने का सबसे अच्छा समय

अगर आप जोधपुर में बुलेट बाबा मंदिर जाने की योजना बना रहे हैं तो हम आपको बता दें कि जोधपुर जाने का सबसे अच्छा समय अक्टूबर से मार्च तक है। सर्दी का मौसम इस शहर की यात्रा के लिए अनुकूल समय है। मार्च से शुरू होने वाली गर्मियों के दौरान जोधपुर की यात्रा करने से बचें क्योंकि इस दौरान तापमान 45 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच जाता है, जो आपकी जोधपुर यात्रा को प्रभावित कर सकता है।

Shri Om Banna Temple Information In Hindi

How To Reach Bullet Baba Temple Jodhpur In Hindi – बुलेट बाबा मंदिर जोधपुर कैसे पहुंचे

जोधपुर-अहमदाबाद राष्ट्रीय राजमार्ग पर जोधपुर से पाली जाते समय पाली से करीब 20 किमी पहले ‘दुर्घटना संभावित’ क्षेत्र का बोर्ड नजर आता है। उसके बाद पूजा सामग्री से सजी दुकानें दिखाई देती हैं और साथ ही भीड़ से घिरा एक मंच भी दिखाई देता है, जिस पर ओम सिंह राठौड़ (ओम बन्ना) की बड़ी सी तस्वीर नजर आती है और हर वक्त ज्योति जलती रहती है. वहीं मंच के पास फूल-मालाओं से लदी एक बुलेट मोटर साइकिल नजर आती है.

Om Banna Temple Photos

Om Banna Real Story In Hindi
Om Banna Temple In Hindi

Ignore Tags– Shri Om Banna Temple Information In Hindi, Om Banna Real Story In Hindi, Om Banna Temple In Hindi, Om Banna Bike Accident, Bullet Baba Temple History In Hindi, Om Banna Temple Timing In Hindi, Om Banna Temple Entry Fees In Hindi, Best Time To Visit Bullet Baba Temple In Hindi, Best Places To Visit Near Bullet Baba Temple In Hindi, How To Reach Bullet Baba Temple Jodhpur In Hindi,

Shri Om Banna Temple Information In Hindi, Om Banna Real Story In Hindi, Om Banna Temple In Hindi, Om Banna Bike Accident, Bullet Baba Temple History In Hindi, Om Banna Temple Timing In Hindi, Om Banna Temple Entry Fees In Hindi, Best Time To Visit Bullet Baba Temple In Hindi, Best Places To Visit Near Bullet Baba Temple In Hindi, How To Reach Bullet Baba Temple Jodhpur In Hindi,


Leave a Comment

वीकेंड पर दिल्ली के आसपास घूमने वाली 10 बेहतरीन जगहें मसूरी में है भीड़ तो घूमे चकराता, खूबसूरत नजारा आपका मन मोह लेगा। जेब में रखिए 5 हजार और घूम आएं इन दिल को छू लेने वाली जगहों पर वीकेंड में दिल्ली से 4 घंटे के अंदर घूमने की बेहद खूबसूरत जगहे गुलाबी शहर कहे जाने वाले जयपुर के प्लेसेस की खूबसूरत तस्वीरें रिवर राफ्टिंग और ट्रैकिंग के लिए फेमस है उत्तराखंड का ये छोटा कश्मीर उत्तराखंड का सीक्रेट हिल स्टेशन जहां बसती है शांति और सुंदरता हनीमून के लिए बेस्ट हैं भारत की ये सस्ती और सबसे रोमांटिक जगहें Gulmarg Snowfall: गुलमर्ग में बिछी बर्फ की सफेद चादर, देखे तस्वीरें शिमला – मनाली में शुरू हुई भारी बर्फबारी, देखे जन्नत से भी खूबसूरत तस्वीरें माता वैष्णो देवी भवन में हुई ताजा बर्फबारी, भवन ढका बर्फ की चादर से। सिटी पैलेस जयपुर के बारे में 10 रोचक तथ्य जान चकरा जायेगा सिर Askot: उत्तराखंड का सीक्रेट हिल स्टेशन जो है खूबसूरती से भरपूर Khatu Mela 2024: खाटू श्याम मेला में जाने से पहले कुछ जरूरी जानकारी 300 साल से अधिक समय से पानी में डूबा है जयपुर का ये अनोखा महल राम मंदिर के दर्शन की टाइमिंग में हुआ बदलाव, जानिए नया शेड्यूल अयोध्या में श्री राम मंदिर में राम लला विराजमान, देखे पहली तस्वीरें अयोध्या में श्री राम की मूर्ति का रंग क्यों है काला? जाने इसके पीछे का रहस्य अयोध्या राम मंदिर: अद्भुत रोचक तथ्य जो आपको जानना चाहिए राजस्थान का कश्मीर जो है हरियाली से भरपूर खूबसूरत हिल स्टेशन