उत्तराखंड का ये मनमोहक ऑफबीट टूरिस्ट हिल स्टेशन धनोल्टी घूमने की जानकारी: Best Places To Visit In Dhanaulti In Hindi:

Best Places To Visit In Dhanaulti In Hindi:- मसूरी से 62 किमी की दूरी पर स्थित, धनोल्टी उत्तराखंड का एक छोटा सा शहर है। समुद्र तल से करीब 2200 मीटर की ऊंचाई पर स्थित यह पहाड़ी स्थान एक ऑफबीट पर्यटक स्थल के रूप में भी जाना जाता है। इस हिल स्टेशन पर आने के बाद लोगों को एक अलग ही शांति का एहसास होता है।

शहर के शोर-शराबे से दूर अक्सर लोग यहां घूमने आते हैं। अगर आप भी गर्मी से निजात पाने के लिए प्रकृति के बीच कुछ क्वालिटी टाइम बिताना चाहते हैं तो आज से ही इस जगह पर जाने का प्लान बनाना शुरू कर दें। इस यात्रा में अधिकतम 2 से 3 दिन लगेंगे, जिसे आप आने वाले लंबे वीकेंड पर भी प्लान कर सकते हैं। गढ़वाल हिमालय की तलहटी में स्थित, धनोल्टी एक शांत और सुरम्य हिल स्टेशन है जो शहरी जीवन की हलचल से दूर एक स्वागत योग्य विश्राम प्रदान करता है। अपने धुंधले पहाड़ों, हरे-भरे जंगलों और विचित्र गांवों के साथ, धनोल्टी एक छिपा हुआ रत्न है जो खोजे जाने की प्रतीक्षा कर रहा है।

Best Places to See Snowfall in India, Best Places to visit in Dhanaulti in Hindi, Major tourist places to visit in Dhanaulti, History of Dhanaulti in Hindi, 5 Places To Visit In Dhanaulti In Hindi, Places To Visit In Dhanaulti In Hindi, Make A Trip To Beautiful Dhanaulti Hill Station In Uttarakhand, Dhanaulti Tourist Places in Hindi, Dhanaulti Hill Station Travel Guide Blog in Hindi, Dhanaulti Hill Station Travel Guide in Hindi, Information about Dhanaulti Uttarakhand, Best Time to Visit Dhanaulti Uttarakhand, Famous Tourist Places of Dhanaulti In Hindi, Dhanaulti Me Ghumne Ki Jagah, Best Time To Visit Dhanaulti In Hindi, Top Places to visit in Dhanaulti in Hindi,

धनोल्टी का इतिहास – History of Dhanaulti in Hindi

धनोल्टी में बर्फ से ढके खूबसूरत पेड़ और यहां की घाटी हमें आकर्षित करती नजर आती है। अगर इतिहास की बात करें तो कभी सुदर्शन शाह इस क्षेत्र के राजा थे जिन्होंने अपने राजवंश की स्थापना की और टेहरी को राजधानी बनाया। यह क्षेत्र 1815 से अस्तित्व में है। इन राजाओं ने 1949 तक शासन किया। आजादी से पहले यह टेहरी गढ़वाल क्षेत्र का हिस्सा था।

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now
Instagram Channel (Join Now) Follow Now

लेकिन आजादी के बाद स्थानीय लोगों ने राजा का विरोध किया और इस क्षेत्र को मुक्त करा लिया, बाद में धनोल्टी को टिहरी गढ़वाल से हटाकर उत्तर प्रदेश राज्य में शामिल कर लिया गया। वर्ष 2000 में जब उत्तराखंड की स्थापना हुई तो इसे उत्तर प्रदेश से हटाकर उत्तराखंड में शामिल कर दिया गया।

धनोल्टी में आपको छोटी-छोटी सड़कें और उसके दोनों ओर छोटे-छोटे घर और कुछ होटल दिखाई देंगे। इस जगह पर आपको शॉपिंग के लिए कोई बाजार या दुकानें नहीं मिलेंगी जहां से आप अपनी जरूरत का सामान खरीद सकें।

Best Places To Visit In Dhanaulti In Hindi – धनोल्टी में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगहें

धनोल्टी मसूरी के पास एक छोटा और खूबसूरत हिल स्टेशन है, इस हिल स्टेशन से गंगोत्री रेंज के पहाड़ों का साफ नजारा दिखता है। धनोल्टी खूबसूरत हिमालय की चोटियों के बीच स्थित है। और देवदार के पेड़ धनोल्टी की सुंदरता को और भी बढ़ा देते हैं। यह हिल स्टेशन शहर की भीड़-भाड़ से दूर 2286 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। मसूरी की तुलना में धनोल्टी बहुत छोटा हिल स्टेशन है।

जो लोग मसूरी घूमने आते हैं. वह लोग धनोल्टी घूमने जरूर आते हैं क्योंकि यह हिल स्टेशन मसूरी के बहुत करीब है। वहीं मसूरी से धनोल्टी तक का रास्ता भी बेहद खूबसूरत है। मसूरी से धनोल्टी तक का सफर भी आपके सफर को रोमांच से भरपूर बना देता है। मसूरी से धनोल्टी पहुंचने के लिए आप मसूरी से ही बाइक या स्कूटर किराए पर ले सकते हैं और इस छोटे से रोमांच का आनंद ले सकते हैं।

धनोल्टी में घूमने के लिए बहुत कुछ नहीं है, लोग यहां सिर्फ धनोल्टी की सुंदरता और शांति का अनुभव करने आते हैं। अगर आप किसी शांत जगह की तलाश में हैं जहां आप कुछ दिन शांति से बिता सकें तो धनोल्टी आपके लिए है।

देवगढ़ किला – Devgarh Fort in Dhanaulti in Hindi

Devgarh Fort in Dhanaulti in Hindi

यह किला 16वीं सदी जितना पुराना है और इसमें कई भव्य महल और जैन मंदिर हैं। यहां की कला और संरचना लोगों को आश्चर्यचकित कर देती है। यह किला उन जगहों में से एक है जहां आपको जीवन में एक बार जरूर जाना चाहिए। अपनी धनोल्टी यात्रा में इस स्थान को अपनी सूची में शामिल करना न भूलें।

इको पार्क – Eco Park in Dhanaulti in Hindi

Eco Park in Dhanaulti in Hindi

धनोल्टी में वन विभाग द्वारा दो इको पार्क बनाए गए हैं, जिनके नाम “अम्बर” और “धारा” हैं। इन दोनों पार्कों के बीच की दूरी मात्र 200 मीटर है। जब भी आप इको पार्क जाएंगे तो आपको ज्यादातर देवदार और चीड़ के पेड़ों के जंगल दिखाई देंगे, जहां आप फोटोग्राफी या वीडियोग्राफी भी कर सकते हैं। कभी-कभी इन पार्कों में आपको जानवरों और पक्षियों की प्रजातियों की समृद्ध विविधता दिखाई देगी।

अगर मैं अपनी बात करूं तो जब मैं पहली बार धनोल्टी घूमने गया तो वहां मुझे ज्यादातर प्रेमी जोड़े दिखे, जिससे दो प्रेमियों को ऐसा महसूस होता है जैसे वे स्वर्ग में हैं। यहां सूर्यास्त और सूर्योदय के समय जो नजारा दिखता है, देवदार और ओक के पेड़ों से घिरा धनोल्टी आपकी यात्रा को बेहद यादगार बना देगा।

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now
Instagram Channel (Join Now) Follow Now

इको पार्क के अस्तित्व में आने से स्थानीय लोगों को भी काफी रोजगार मिला है क्योंकि इको पार्क के सामने ही आपको कई मैगी और टी पॉइंट देखने को मिलेंगे जहां पर्यटक न सिर्फ खाने का आनंद लेते हैं बल्कि यह क्षेत्र घूमते भी हैं। गर्मी महसूस नहीं होती, इसकी ऊंचाई समुद्र तल से 7800 मीटर है।

इको पार्क में वन विभाग द्वारा बच्चों के खेलने के लिए झूले, स्लाइड और मैदान जैसी बहुत अच्छी व्यवस्था की गई है। इस पार्क में आपको पौधारोपण के रूप में यहां की परंपरा का भी पालन करना होगा। क्योंकि यहां ज्यादातर लोग अपने प्रियजनों की याद में पेड़-पौधे लगाते हैं।

सुरकंडा देवी मंदिर- Surkanda Devi Temple In Hindi

Surkanda Devi Temple In Hindi

धनोल्टी से लगभग 8 किलोमीटर की दूरी पर स्थित यह सुरखंडा देवी मंदिर धनोल्टी के प्रमुख धार्मिक स्थल के रूप में जाना जाता है। अगर आप भी धनोल्टी की यात्रा के दौरान किसी धार्मिक स्थल के दर्शन करना चाहते हैं तो आपको धनोल्टी में स्थित सुरकंडा देवी मंदिर के दर्शन जरूर करने चाहिए।

सुरखंडा देवी मंदिर उन लोगों के लिए बेहतर है जिन्हें ट्रैकिंग पसंद है क्योंकि यहां तक पहुंचने के लिए ट्रैकिंग करनी पड़ती है। इस मंदिर की चढ़ाई काफी कठिन है। यह सुरकंडा देवी मंदिर भी भारत में स्थित शक्तिपीठों में से एक माना जाता है।

पौराणिक कथा के अनुसार, जब माता सती ने दक्ष के यज्ञ में कूदकर अपने प्राण त्याग दिये थे। तो भगवान शिव बहुत क्रोधित हुए और सती के मृत शरीर को उठाकर पूरे ब्रह्मांड में घूमने लगे। तब भगवान विष्णु ने अपने सुदर्शन चक्र से सती के शरीर को 51 भागों में विभाजित कर दिया, जिससे सती के जले हुए शरीर के हिस्से पृथ्वी पर अलग-अलग स्थानों पर गिरे। इस स्थान पर माता सती का धड़ या सिर गिरा था जिसे सुरकंडा देवी के नाम से जाना जाता है।

धनोल्टी एडवेंचर पार्क – Dhanaulti Adventure Park In Hindi

Dhanaulti Adventure Park In Hindi

धनोल्टी एडवेंचर पार्क एक ऐसी जगह है जहां आप पहाड़ी के पीछे स्थित बरकथा के आसपास के क्षेत्र का सुरम्य और शानदार दृश्य देख सकते हैं। यहां घूमने के बाद आप कई अलग-अलग एडवेंचर स्पोर्ट्स का भी बेहतरीन अनुभव ले सकते हैं। उदाहरण के लिए, यदि आप धनोल्टी एडवेंचर पार्क जाते हैं, तो आप स्काई वॉक, स्काई ब्रिज, जिप लाइन, वैली क्रॉसिंग, जिप स्विंग, ट्रैकिंग, पैराग्लाइडिंग और रैपलिंग आदि गतिविधियों का आनंद ले सकते हैं।

कौड़िया वन – Kodiya Van Dhanaulti In Hindi

अगर आप प्रकृति प्रेमी हैं और आपको जंगल के जीव-जंतुओं और पौधों को देखना पसंद है तो आप इस कोडिया वन की यात्रा कर सकते हैं। कोडिया वन एक शांतिपूर्ण और हरे-भरे वातावरण वाला स्थान है। यहां जाने के बाद आप महसूस कर सकते हैं कि आप प्रकृति के बेहद करीब हैं। यहां घूमने के लिए आप जीप सफारी का भी सहारा ले सकते हैं। इस कोडिया जंगल में बड़ी संख्या में प्रकृति प्रेमी आते हैं।

कैंपिंग – Camping in Dhanaulti in Hindi

Camping in Dhanaulti in Hindi

धनोल्टी आसपास के हरे-भरे खेतों में कैंपिंग का आनंद लेने के लिए भी जाना जाता है। इसके अलावा, पहाड़ी गांवों के पास नदियों के किनारे तंबू लगाने की भी सुविधा है। कैंपिंग स्थलों पर टेंट किफायती दामों पर आसानी से किराए पर उपलब्ध हैं। आप आवश्यकता के अनुसार इनका आकार चुन सकते हैं।

धनोल्टी जाने का सबसे अच्छा समय कौनसा है – Best Time to Visit Dhanaulti Uttrakhand

धनोल्टी जाने का सबसे अच्छा समय मार्च से जुलाई है, यही वह समय है जब आप धनोल्टी से गंगोत्री पर्वत श्रृंखला का स्पष्ट दृश्य देख सकते हैं। और आप सुहावने मौसम का लुत्फ़ उठा सकते हैं. दरअसल धनोल्टी का रास्ता सिर्फ 12 महीने ही खुला रहता है। इसलिए आप यहां किसी भी मौसम में जा सकते हैं। लेकिन अगर आप सितंबर के बाद धनोल्टी जाएंगे तो सितंबर से ही यहां का मौसम काफी ठंडा होने लगता है।

इसलिए अगर आप सितंबर या उसके बाद यहां आएं तो अपने साथ कुछ गर्म कपड़े जरूर रखें। मैरी के बारे में बात करते हुए, मैं अक्टूबर में धनोल्टी गया था और एक रात के लिए धनोल्टी में रुका था और अक्टूबर में भी यहाँ का मौसम बहुत ठंडा था। उस समय यहां रात का तापमान लगभग 3 से 5 डिग्री के बीच रहता था।

Dhanaulti का तापमान 12 महीने ही ठंडा रहता है। और सितंबर के बाद से धनोल्टी काफी ठंडा होना शुरू हो जाता है। 

  • जून में : धनोल्टी का तापमान 14 डिग्री तक रहता है । 
  • जुलाई में :  13 डिग्री तक रहता है । 
  • नवंबर में : 5 डिग्री तक रहता है। 
  • जनवरी में यह  तापमान : 1 ° से  -5  डिग्री तक चला जाता है। 

धनोल्टी में बर्फबारी कब होती है – Dhanaulti Snowfall Timing?

Dhanaulti Snowfall Timing

दिसंबर लास्ट वीक से धनोल्टी में बर्फ गिरनी शुरू हो जाती है। और यह बर्फबारी फ़रवरी फर्स्ट वीक तक रहती है, इस समय धनोल्टी पूरी तरह से सफेद बर्फ से ढका रहता है। और ये नजारा बहुत ही शानदार है. इस समय यहां काफी संख्या में पर्यटक आते हैं। धनोल्टी का शानदार नजारा देखने और बर्फ का मजा लेने के लिए और अगर आप भी धनोल्टी में बर्फ देखना चाहते हैं तो आपको इस दौरान एक बार धनोल्टी जरूर जाना चाहिए।

धनोल्टी में एक दिन का कार्यक्रम- Dhanaulti One Day Itinerary In Hindi

पहला दिन- धनोल्टी की यात्रा में पहले दिन आप देहरादून एयरपोर्ट या रेलवे स्टेशन पहुंचकर देहरादून के प्रसिद्ध दर्शनीय स्थलों और पर्यटन स्थलों का भ्रमण कर सकते हैं. इसके बाद आप शाम को कैब या टैक्सी से धनोल्टी के लिए निकल सकते हैं।

दिन 2- नाश्ते के बाद आप धनोल्टी और इसके आस-पास की जगहों पर जा सकते हैं। अपनी यात्रा के दौरान, आप यहां स्थित इको पार्क भी देख सकते हैं, जिसमें वनस्पतियों और जीवों की समृद्ध विविधता है। इसके बाद आप सुरकंडा देवी मंदिर और जोरांडा झरने देखने जा सकते हैं।

दिन 3- धनोल्टी और इसके आसपास के पर्यटन स्थलों का दौरा करने के बाद, आप होटल से चेक आउट कर सकते हैं और आसपास के अन्य स्थानों पर जा सकते हैं या अपनी यात्रा समाप्त कर सकते हैं।

मसूरी से धनोल्टी जाने के लिए तीन विकल्प है – There are three options to go from Mussoorie to Dhanaulti

  • पहले आप Mussoorie से Dhanaulti के लिए स्कूटी या बाइक रेंट कर सकते हो जो की ज्यादा तर पर्यटक करते है। मसूरी से आपको बहुत आसानी से स्कूटी या बाइक किराये पे मिल जाएगी।
  • दूसरा विकल्प है। Mussoorie से Dhanaulti के लिए बहुत सारी लोकल जीप भी चलती है। जोकि 60 या 70 रुपए में आपको मसूरी से धनोल्टी पहुंचा देती है।
  • तीसरा विकल्प है। मसूरी से Dhanaulti के लिए आप टैक्सी भी कर सकते हो यह टैक्सी आपको मसूरी के टैक्सी स्टैंड से मिल जायेगी। 

अब अगर बात करे की तीनों में से कौनसा बेस्ट विकल्प है तो अपने लिए पहला विकल्प चुनता बेहतर है क्योंकि मसूरी से धनोल्टी का रास्ता सच में बहुत खूबसूरत है। और इस सफर का अनुभव आप किसी भी टैक्सी या जीप में नहीं कर सकते।

अगर आप बाइक या स्कूटी करते हो तो आप जहां चाहो वहां अपनी स्कूटी या बाइक रोक के फोटो क्लिक कर सकते हो और जितना टाइम धनोल्टी में रुकना चाहो आप उतना टाइम रुक सकते हो।

Dhanaulti Uttrakhand Images And Photos

Tags

Best Places to See Snowfall in India, Best Places to visit in Dhanaulti in Hindi, Major tourist places to visit in Dhanaulti, History of Dhanaulti in Hindi, 5 Places To Visit In Dhanaulti In Hindi, Places To Visit In Dhanaulti In Hindi, Make A Trip To Beautiful Dhanaulti Hill Station In Uttarakhand, Dhanaulti Tourist Places in Hindi, Dhanaulti Hill Station Travel Guide Blog in Hindi, Dhanaulti Hill Station Travel Guide in Hindi, Information about Dhanaulti Uttarakhand, Best Time to Visit Dhanaulti Uttarakhand, Famous Tourist Places of Dhanaulti In Hindi, Dhanaulti Me Ghumne Ki Jagah, Best Time To Visit Dhanaulti In Hindi, Top Places to visit in Dhanaulti in Hindi, Dhanaulti Uttrakhand Images And Photos,

Best Places to See Snowfall in India, Best Places to visit in Dhanaulti in Hindi, Major tourist places to visit in Dhanaulti, History of Dhanaulti in Hindi, 5 Places To Visit In Dhanaulti In Hindi, Places To Visit In Dhanaulti In Hindi, Make A Trip To Beautiful Dhanaulti Hill Station In Uttarakhand, Dhanaulti Tourist Places in Hindi, Dhanaulti Hill Station Travel Guide Blog in Hindi, Dhanaulti Hill Station Travel Guide in Hindi, Information about Dhanaulti Uttarakhand, Best Time to Visit Dhanaulti Uttarakhand, Famous Tourist Places of Dhanaulti In Hindi, Dhanaulti Me Ghumne Ki Jagah, Best Time To Visit Dhanaulti In Hindi, Top Places to visit in Dhanaulti in Hindi,


Leave a Comment

बेहद सुकून और प्रदूषण मुक्त सीक्रेट हिल स्टेशन जो है नैनीताल के करीब चिलचिलाती गर्मी के लिए बेस्ट है जयपुर का यह वाटर पार्क एडवेंचर के हैं शौकीन तो जाए खीर गंगा, जो है हिमाचल की वादियों में बसी। गर्मी से मिलेगी राहत, सिर्फ दो हजार में घूमे दिल्ली के पास इन जगहों पर मई में बजट में घूमने के लिए डलहौजी से लेकर नैनीताल तक परफेक्ट हैं ये जगहें गर्मी की छुट्टियों में घूमने का ले भरपूर मजा इन खूबसूरत हिल स्टेशन पर इस गर्मी जयपुर में एन्जॉय करने के लिए बेस्ट वाटर पार्क 2024 चिलचिलाती गर्मी में कूल वाइब्स के लिए घूम आएं इन ठंडी जगहों पर जयपुर के न्यू हवाई-जहाज वॉटर पार्क के टिकट में बड़ा बदलाव, जानिए जयपुर का यह फेमस वाटर पार्क मार्च 2024 में इस डेट को हो रहा है ओपन घूमे भारत के 10 सबसे खूबसूरत एवं रोमांटिक हनीमून डेस्टिनेशन वीकेंड पर दिल्ली के आसपास घूमने वाली 10 बेहतरीन जगहें मसूरी में है भीड़ तो घूमे चकराता, खूबसूरत नजारा आपका मन मोह लेगा। जेब में रखिए 5 हजार और घूम आएं इन दिल को छू लेने वाली जगहों पर वीकेंड में दिल्ली से 4 घंटे के अंदर घूमने की बेहद खूबसूरत जगहे गुलाबी शहर कहे जाने वाले जयपुर के प्लेसेस की खूबसूरत तस्वीरें रिवर राफ्टिंग और ट्रैकिंग के लिए फेमस है उत्तराखंड का ये छोटा कश्मीर उत्तराखंड का सीक्रेट हिल स्टेशन जहां बसती है शांति और सुंदरता हनीमून के लिए बेस्ट हैं भारत की ये सस्ती और सबसे रोमांटिक जगहें Gulmarg Snowfall: गुलमर्ग में बिछी बर्फ की सफेद चादर, देखे तस्वीरें